Mahaakshay Chakraborty and Madalsa Sharma jet off to US for Honeymoon

दि राइजिंग न्यूज़

भोपाल।

 

एमपी के टीकमगढ़ जिले में पुलिस पर किसानों की पिटाई करने और उन्हें निर्वस्त्र करने का आरोप है। बताया जा रहा है कि जिले के किसान सूखा, बिजली और पानी की समस्या के चलते प्रदर्शन कर रहे थे।

 

किसानों का मानना था कि इससे प्रशासन उनकी समस्या को गंभीरता से लेगा और मामले का हल निकाला जा सकेगा। किसानों की मांग थी कि सरकार उन्हें फसल खराब होने का मुआवजा दे।

उन्ही किसानों ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने पहले तो उन्हें पीटा और फिर पुलिस स्टेशन ले गए। वहां किसानों के कपड़े उतरवा दिए गए।

 

किसान को बुलाया आतंकवादी

 

पुलिस की इस कथित कार्रवाई की जानकारी होने पर राज्य गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने जांच के आदेश दिए हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक किसानों ने बताया कि उनका किसी भी राजनीतिक पार्टी से कोई संबंध नहीं है। उन्हे बेरहमी से पीटा गया और कपड़े उतारने को कहा गया।

किसानों ने बताया कि उनमें से एक पुलिसक्रमी ने तो उन्हें आतंकवादी तक कहा। हालांकि टीकमगढ़ पुलिस ने इस बात से इनकार किया है कि किसानों को पुलिस स्टेशन में पीटा गया। वहीं किसानों को निर्वस्त्र करने की बात पर अधिकारियों ने बताया कि जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

 

गौरतलब है कि लगभग चार महीने पहले भी राज्य में किसानों ने अपनी मांग को लेकर प्रदर्शन किया था। इस प्रदर्शन के दौरान पुलिस की गोलीबारी में मंदसौर जिले के पांच किसानों की मौत हो गई थी।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll