Home National News MP Court Gives Life Time Imprisonment For Father And Daughter In Molestation Case

तूतीकोरिन हिंसा: कांग्रेस ने PM नरेंद्र मोदी से पूछे 10 सवाल

PM मोदी 29 मई से 2 जून तक इंडोनेशिया और सिंगापुर के दौरे पर रहेंगे

हापुड़ः लूटपाट के इरादे से बदमाशों ने की दिल्ली पुलिस के दरोगा की हत्या

तूतीकोरिन में फिर भड़की हिंसा के बाद भारी सुरक्षा व्यवस्था तैनात

मूनक नहर की मरम्मत मामले में हरियाणा ने दिल्ली HC में दाखिल की रिपोर्ट

एमपी: दिल-दहलाने वाले मामले में 50 वर्षीय महिला और उसके पिता को उम्रकैद

National | Last Updated : May 09, 2018 12:00 PM IST

MP Court Gives Life Time Imprisonment for Father and Daughter in Molestation Case


दि राइजिंग न्यूज़

भोपाल।

 

एमपी के शिवपुरी जिले में छह अनाथ एवं नाबालिग बच्चियों के साथ रेप और उत्पीड़न करने के मामले में विशेष अदालत ने एक 79 वर्षीय सेवानिवृत्त प्रोफेसर और उनकी बेटी को उम्रकैद की सजा सुनाई है। विशेष न्यायाधीश अरुण कुमार ने पेश किए गए सबूतों के आधार पर मुख्य आरोपी केएन अग्रवाल और उसकी अधिवक्ता बेटी शैला अग्रवाल (50) को अनाथ लड़कियों से रेप करने, उनके साथ मारपीट करने, धमकाने एवं उनके साथ अत्याचार करने के आरोपों में दोषी करार देते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई।

 

इसके अलावा अदालत ने दोनों पर 16-16 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया। बता दें कि प्रो. केएन अग्रवाल सरकारी डिग्री कॉलेज से रिटायर हो चुके हैं। उनकी बेटी शैला अग्रवाल परमार्थ समिति द्वारा संचालित अनाथ आश्रम की अध्यक्ष थीं। अग्रवाल वर्ष 2004 में रिटायर होने बाद अनाथ आश्रम में ही रहने लगे थे।

इस मामले का खुलासा 2016 में आश्रम की दो लड़कियों ने किया था। ये लड़कियां यौन शोषण के कारण आश्रम से भागी थीं। जांच में सामने आया था कि छह लड़कियों के साथ नींद की गोली देकर ज्यादती की जाती थी।

 

अभियोजन पक्ष के मुताबिक, आश्रम में 23 लड़कियां रहती थीं, जिनमें से छह ने उनके साथ रेप किए जाने की शिकायत की थी। इस खुलासे के बाद शैला और उसके पिता को पॉक्सो एक्ट की विभिन्न धाराओं के तहत गिरफ्तार कर आश्रम को सील कर दिया गया था। इस मामले में पुलिस ने बाप बेटी समेत चार के खिलाफ आरोप पत्र पेश किया था। इनमें शैला का भाई भी शामिल है, लेकिन विक्षिप्त होने के कारण कोर्ट ने उसके खिलाफ सजा नहीं सुनाई। चौथे आरोपी को साक्ष्य के अभाव में बरी कर दिया गया।



" जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555 "


Loading...


Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


rising@8AM


Loading...