Ali Asgar Faced Molestation in The Getup of Dadi

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

पीएनबी को करोड़ों रुपए का चूना लगाने वाले भगोड़े व्यवसायी मेहुल चोकसी को एंटीगुआ और बरबूडा नागरिकता प्रदान कर रहे हैं। इसकी वजह से वहां सियासी भूचाल आ गया है। इन देशों की विपक्षी पार्टियों ने इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन से जवाब मांगा है। एक डाटा का विश्लेषण करने के बाद पता चला कि 2014 से 28 भारतीयों ने एंटीगुआ की नागरिकता के लिए आवेदन किया है।

 

एंटीगुआ क्रिकेटर विवियन रिचर्ड्स और एंडी रोबर्ट्स का घर है। सरकारी सूत्रों का कहना है कि वह इस बात की जांच करेंगे कि यह भारतीय कौन हैं। सात भारतीयों को एक जनवरी से 30 जून 2017 के बीच नागरिकता दी गई है। निवेश इकाई द्वारा नागरिकता (सीआईयू) की अर्धवार्षिक रिपोर्ट के अनुसार, इन सभी लोगों ने इस कैरिबियाई देश में 2 लाख डॉलर का निवेश किया है। सीआईयू एंटीगुआ के वित्त मंत्रालय के अंतर्गत आता है।

ऐसे मिलती है एंटिगुआ में नागरिकता

एंटिगुआ किसी भी विदेशी नागरिक को दोहरी नागरिकता देता है। विदेशी नागरिक को वहां नेशनल डिवेलपमेंट फंड में 1 लाख डॉलर का निवेश या सरकार द्वारा स्वीकृत किए गए रियल एस्टेट या फिर किसी पहले से स्वीकृत व्यापार में निवेश करना होता है। एक बार एंटिगुआ का पासपोर्ट मिलने के बाद ऐसे व्यक्ति 132 देशों में बिना वीजा के यात्रा कर सकते हैं और इनका प्रत्यर्पण भी नहीं किया जा सकता है।

 

यदि आप चाहें तो केवल 12 बिटकॉइन को वर्तमान कीमत पर बेचकर भी एंटीगुआ की नागरिकता प्राप्त कर सकते हैं, या फिर चाहें तो केवल एक लाख यूएस डॉलर का निवेश भी कर सकते हैं। यह राशि शख्स पर निर्भर करने वाले लोगों की संख्या के आधार पर बढ़ सकती है। इसके बारे में वहां के प्रधानमंत्री ब्राउन का कहना है कि इसके जरिए क्रिप्टोकरेंसी धारकों के लिए नागरिकता लेना आसान हो जाएगा। भुगतान के इस तरीके से दुनियाभर के लोग एंटीगुआ की तरफ आकर्षित होंगे।

संसद में दिए बयान में ब्राउनी ने कहा, “सच्चाई यह है कि इससे हमारा बाजार बढ़ेगा क्योंकि हमारे पास बहुत सारे क्रिप्टोकरेंसी निवेशक हैं जो नागरिकता लेना चाहते हैं लेकिन केवल क्रिप्टोकरेंसी में ही भुगतान कर सकते हैं। यदि आप क्रिप्टोकरेंसी को स्वीकार नहीं करते हैं तो आप उस बाजार से दूर हो जाते हैं।”

 

सरकार द्वारा सीआईयू कार्यक्रम की शुरुआत करने के बाद 1,121 लोगों ने नागरिकता के लिए आवेदन किया है। इस सूची में सबसे ज्यादा संख्या चीन की है। चीन के 478 नागरिकों ने नागरिकता पाने के लिए आवेदन किया है। चोकसी को नवंबर 2017 में एंटीगुआ की नागरिकता मिल गई थी। हालांकि दूसरे भारतीयों के नाम अभी तक पता नहीं चले हैं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement