Home National News LET Terrorists Get Lifetime Imprisonment From Jaipur Court

J&K: दक्षिण कश्मीर और जम्मू के कई इलाकों में भारी बर्फबारी

फीस पर निजी स्कूलों की मनमानी रोकने के लिए AAP विधायकों की बैठक

उदयपुर: शंभूलाल के समर्थक हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर किया पथराव

नीतीश को तेजस्वी का चैलेंज, विकास किया है तो दिखाएं रिपोर्ट

आधार मामले पर सुप्रीम कोर्ट कल सुनाएगा फैसला

लश्‍कर के आठ  आतंकियों को आजीवन कारावास

National | 06-Dec-2017 15:10:10 | Posted by - Admin

 

  • सभी पर 11-11 लाख का जुर्माना
   
LET Terrorists Get Lifetime Imprisonment from Jaipur Court

दि राइजिंग न्यूज़

जयपुर।

 

मुंबई हमलों के मास्टर माइंड और लश्कर-ए-तैयबा के चीफ हाफिज सईद के आठ आतंकियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है। साथ ही, सभी पर 11-11 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया है।

 

जयपुर के कोर्ट नंबर 17 के एडीजे पवन गर्ग ने LeT के आठ आतंकियों को देश में दंगा फैलाने और अन्य आतंकी व राष्ट्र विरोधी गतिविधियों में दोषी पाया है। कोर्ट ने फैसले में कहा है कि ये देश में व्यापक स्तर पर अस्थिरता फैलाना चाहते थे।

कोर्ट ने ये भी माना कि ये देश में लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी नेटवर्क को फैलाने की फिराक में थे, जिससे आतंकी हमलों का अंजाम दिया जा सके।

 

गौरतलब है तीस नवंबर को पूरी हुई सजा पर बहस के बाद सजा का ऐलान चार दिसंबर को होना था लेकिन पक्ष और विपक्ष की दलील सुनने के बाद कोर्ट ने छह दिसंबर को सजा सुनाने का निर्णय दिया था। इसके चलते आज सजा सुनाने से पूर्व ही जयपुर के एडीजे कोर्ट में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई।

फोन रिकॉर्डिंग के आधार पर हुआ था खुलासा

 

गौरतलब है कि  तीन पाकिस्तानी और पांच भारतीय नागरिकों को जयपुर की एडीजे कोर्ट में लश्कर-ए-तैयबा से सबंध रखने और भारत में आतंकी साजिश रचने का दोषी पाया था।  वर्ष 2010 अक्टूबर में राजस्थान पुलिस की एसओजी टीम ने तीन पाकिस्तानी और पांच भारतीय नागरिकों को आतंकी साजिश के आरोप में गिरफ्तार किया था। जिसमें असगर अली, शकर उल्लाह व मोहम्मद इकबाली पाकिस्तानी है। जबकि निशाचंद अली, पवन पुरी, अरुण जैन, काबिल खां और अब्दुल मजीद भारतीय नागरिक है। हालांकि बाद में मामले की जांच एटीएस को सौंप दी गई थी।

 

एटीएस की जांच में आरोपियों का सबंध आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा से होने के सबूत मिले थे। जांच एजेंसिंयों ने फोन रिकॉर्डिंग के आधार पर इस आतंकी सेल का खुलासा किया था। मामले की सुनवाई सात वर्ष से अधिक समय तक चली। केस में एटीएस ने तीन हजार पन्नों की चार्जशीट भी दाखिल की।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news




sex education news