Golmal Starcast Will Be in Cameo in Ranveer Singh Simba

दि राइजिंग न्यूज़

पटना।

 

चारा घोटाला में देवघर सरकारी खजाने से 90 लाख रुपये की अवैध निकासी के मामले में दोषी करार दिए गए आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की सजा पर सुनवाई शुक्रवार को पूरी हो गई। लालू समेत अन्य 16 दोषियों को विशेष सीबीआइ जज शिवपाल सिंह सजा कब सुनाते है इसको लेकर संशय बना हुआ है।

 

लालू प्रसाद यादव की सजा के ऐलान में हो रही देरी पर जेडीयू प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि लालू की हालत ऐसी हो गई है कि वह जाटमृत्यु दान मांग रहे हैं लेकिन मौत भी नसीब नहीं हो रही है। लालू परिवार के द्वारा रेलवे में नौकरी के बदले जमीन लेने के आरोपों का जिक्र करते हुए संजय सिंह ने कहा कि लालू के परिवारवाले ने बिहार के गरीबों को लूटने और जनता से जमीन लिखवाते थे तो उन्हें कुछ घंटों की भी मोहलत नहीं देते थे।

संजय सिंह ने कहा कि लालू परिवार एक ही दिन में कई लोगों से अपने नाम पर जमीन लिखवा देते थे लेकिन रांची की विशेष सीबीआइ अदालत इतनी जल्दबाजी में नहीं है। लालू को सजा सुनाने में उन्हें मोहलत दे रही है।

 

संजय ने कहा, लालू यादव चाहते हैं कि कोर्ट उन्हें जल्द से जल्द सजा सुना दे, लेकिन कोर्ट की अपनी एक प्रक्रिया होती है। वह अपने समय और नियम से ही फैसला सुनाएगी। लालू पर तंज कसते हुए संजय सिंह ने कहा कि आज लालू जब बिरसा मुंडा जेल में बंद हैं तो उन्हें अपने पुराने पाप याद आ रहे होंगे और जिसके लिए उन्होंने धन अर्जित किया वह बाहर मौज कर रहे हैं।

वहीं दूसरी तरफ संजय सिंह ने आरजेडी के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी को भी जमकर लताड़ा। शिवानंद तिवारी ने हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में आरक्षण की बात कही थी। जिसे लेकर संजय सिंह ने कहा कि शिवानंद तिवारी को पहले यह आरक्षण की पॉलिसी अपनी पार्टी में लागू करनी चाहिए और लालू प्रसाद से आरजेडी अध्यक्ष के पद से इस्तीफा लेकर किसी महादलित नेता को पार्टी का अध्यक्ष बना देना चाहिए।

 

संजय ने कहा कि शिवानंद तिवारी अगर आरक्षण के बड़े पैरवीकार हैं तो उन्हें तेजस्वी यादव को नेता प्रतिपक्ष के पद से हटाकर वहां किसी दलित या महादलित नेता को नेता प्रतिपक्ष बना देना चाहिए।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement