Home National News Latest And Trending Updates Over Indian PM Employment Scheme

सेंचुरियन वनडे: भारत ने जीता टॉस, पहले गेंदबाजी का फैसला

सेंचुरियन वनडे: टीम इंडिया में एक बदलाव, शार्दुल ठाकुर को मिला मौका

PNB घोटाले के दोषी को छोड़ा नहीं जाएगा, चाहे वो राहुल गांधी ही क्यों ना हों: नरसिम्हा राव

दिल्ली: प्रकाश जावड़ेकर कुछ ही देर में करेंगे प्रेस कॉन्फ्रेंस

त्रिपुरा में चुनाव प्रचार खत्म, 18 फरवरी को होगी वोटिंग

प्रधानमंत्री रोजगार योजना में पिछले साल 88% लोन एप्लीकेशन रिजेक्ट

National | 14-Feb-2018 12:05:54 | Posted by - Admin
   
Latest and Trending Updates over Indian PM Employment Scheme

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

बजट 2018-19 में प्रधानमंत्री इम्‍प्‍लॉयमेंट जनरेशन प्रोग्राम (पीएमईजीपी) के तहत 7.5 लाख युवाओं को रोजगार देने का टारगेट रखा है, लेकिन अप्रैल 2017 से अब तक आंकड़े बताते हैं कि पीएमईजीपी के तहत 4 लाख से ज्यादा युवाओं ने अप्‍लाई किया, इनमें से सिर्फ 50 हजार को ही लोन मिल पाया है। यानी कि महज 12 फीसदी बेरोजगारों को लोन दिया गया, बाकी 88 फीसदी युवाओं की एप्‍लीकेशन रिजेक्‍ट कर दी गई।

क्‍या कहते हैं आंकड़े?

पीएमईजीपी के पोर्टल के मुताबिक, अप्रैल 2017 से 13 फरवरी 2018 तक 4 लाख 3 हजार 988 युवाओं ने प्रधानमंत्री इम्‍प्‍लॉयमेंट जनरेशन प्रोग्राम के तहत लोन के लिए एप्‍लाई किया। इनमें से 3 लाख 49 हजार 208 एप्‍लीकेशन कलेक्टर की अगुआई में बनी डिस्ट्रिक्‍ट लेवल टास्‍क फोर्स कमेटी के सामने रखी गईं। कमेटी ने 2 लाख 52 हजार 536 एप्‍लीकेशन को मंजूरी देते हुए बैंकों के लिए फॉरवर्ड कर दिया, लेकिन इनमें से सिर्फ 49 हजार 721 एप्‍लीकेशन को बैकों ने मंजूरी देते हुए लोन सेंक्‍शन किया है।

क्‍यों रिजेक्‍ट की गईं एप्‍लीकेशन?

दो लाख से अधिक एप्‍लीकेशन रिजेक्‍ट करने के पीछे बैंकों ने वजह भी बताई है। बैंकों के मुताबिक लोन एप्‍लीकेशन के साथ जमा प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट वाइबल नहीं होती है। दूसरी वजह, लोन के लिए एप्‍लाई करने वाले युवाओं का ही इंटरेस्‍ट नहीं होता।

 

इनके अलावा सिविल रिपोर्ट सही न होना, एप्लीकेंट का डिफॉल्‍टर होना, एप्लीकेंट की ओर से अपना हिस्‍सा जमा न कराना, डॉक्‍यूमेंट जमा न करा पाना, बिजनेस का नॉलेज न होना भी एप्‍लीकेशन रिजेक्‍शन की वजह बताई गई हैं।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news