Home National News India Demands From Pakistan To Remove The Encroachment From POK

शिमला: गैंगरेप के आरोपी कर्नल को 3 दिनों की पुलिस रिमांड पर भेजा गया

तिब्बत चीन से आजादी नहीं, विकास चाहता है: दलाई लामा

केरल लव जिहाद केस: NIA ने सुप्रीम कोर्ट को सौंपी स्टेटस रिपोर्ट

26.53 अंकों की बढ़त के साथ 33,588.08 पर बंद हुआ सेंसेक्स

J-K: राष्ट्रगान के दौरान खड़े न होने पर दो छात्रों के खिलाफ FIR दर्ज

PoK पर किया गया अवैध कब्जा खत्म करो

National | 14-Nov-2017 11:45:42 | Posted by - Admin
   
India Demands from Pakistan to Remove the Encroachment from POK

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

संयुक्त राष्ट्र संघ की एक मीटिंग में भारत ने पाकिस्तान सरकार के सामने PoK में उसके द्वारा किए गए अवैध कब्जे को खत्म करने की मांग रखी है। भारत सरकार ने यह बात स्विट्जरलैंड के जिनेवा में हुई युनीवर्सल पीरियोडिक रिव्यू (UPR) मीटिंग में कही।

 

न्यूज एजेंसी के मुताबिक, भारत ने पाकिस्तान से कहा है कि उसे PoK में जबरन तरीके से कब्जाई गई जमीन को खाली कर वहां रह रहे लोगों को परेशान करना और मारना बंद करना चाहिए। इसके साथ ही धर्मपरिवर्तन, नाबालिगों की शादी, हिंदू, सिख और ईसाई महिलाओं पर होने वाले अत्याचार को बंद करने को भी कहा गया है।

भारत ने पाकिस्तान से यह भी कहा है कि ईशनिंदा कानून का गलत इस्तेमाल, नाबालिगों को मौत की सजा देना, दिव्यागों को मारना भी बंद होना चाहिए।

 

क्या है UPR?

 

यूएन की जनरल एसेंबली (UNGA) ने 2006 में इसकी शुरुआत की थी, इसमें देखा जाता है कि किसी देश में मानव अधिकारों का हनन तो नहीं हो रहा। 2008 में हुई ऐसी मीटिंग में पाकिस्तान से 51 सिफारिश की गई थीं जिसमें से उसने 43 को पूरा करने की बात कही और 8 को नकार दिया। वहीं 2012 में पाकिस्तान से 167 सिफारिश की गई थीं जिसमें से उसने 126 को माना, 34 को नोट किया और सात को रिजेक्ट कर दिया।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555



संबंधित खबरें



HTML Comment Box is loading comments...

Content is loading...




गैजेट्स

TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll


What-Should-our-Attitude-be-Towards-China


Photo Gallery
गोमती तट पर दीप आरती करती महिलाएं। फोटो- अभय वर्मा



Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news


sex education news