Salman Khan Helped Doctor Hathi

दि राइजिंग न्यूज़

श्रीनगर।

 

घाटी में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के गलत इस्तेमाल को रोकने के लिए प्रशासनिक तौर पर बड़ा कदम उठाया गया है। अब वाट्सएप ग्रुप के एडमिन को अपना पुलिस वेरिफिकेशन कराना होगा और ग्रुप का रजिस्ट्रेशन करना होगा। एडमिन को इस आशय का शपथ-पत्र भी देना होगा कि उसके ग्रुप में अपलोड सामग्री के लिए वह निजी तौर पर जिम्मेदार होगा और इस तरह की सामग्री से कानून के संभावित उल्लंघन की स्थिति में वह कानूनी कार्रवाई का सामना करने के लिए उत्तरदायी होगा।

ऐसा नहीं करने पर होगा ये

ऐसा नहीं करने पर एडमिन के खिलाफ आतंकवाद रोधी कानून, गैर कानूनी गतिविधि (निरोधक) अधिनियम,  सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम, रणबीर दंड संहिता और साइबर अपराध कानूनों के तहत मुकदमा चलेगा। फिलहाल यह व्यवस्था किश्तवाड़ जिले में लागू की गई है। जल्द ही बाकी जिलों में भी यह प्रशासनिक कदम उठाया जा सकता है।

सोशल मीडिया से बढ़ाई जाती है अफवाह

दरअसल, घाटी में अक्सर सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर अफवाहों के जरिये कानून-व्यवस्था के हालात को बिगाड़ा जाता रहा है। इससे निपटने के लिए मुश्किल हालात पैदा होने पर इंटरनेट सेवाओं को बंद करने की कार्रवाई की जाती है। लिहाजा किश्तवाड़ के एसएसपी ने जिला प्रशासन को पत्र लिखकर यह कदम उठाने का सुझाव दिया, जिसे मान लिया गया है। सभी वाट्सएप ग्रुप के एडमिन को पुलिस वेरिफिकेशन और ग्रुप का रजिस्ट्रेशन कराने के लिए दस दिनों का वक्त दिया है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll