Neha Kakkar Crying gets Emotional in Memories of Ex Boyfriend Himansh Kohli

दि राइजिंग न्‍यूज

वैशाली।

 

सोमवार रात वैशाली जिले में मूर्ति विसर्जन को लेकर दबंगों और दलितों के बीच बवाल हो गया। जिसके बाद दबंगों ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। इस दौरान एक दलित लड़की की मौत हो गई। घटना हाजीपुर के सदर थाना क्षेत्र अंतर्गत दिग्घी खुर्द गांव की है।

दरअसल, दलित जाति के लड़के पूजा के बाद मां सरस्वती की प्रतिमा को विसर्जन करने के लिए ले जा रहे थे। विसर्जन यात्रा के दौरान दलित समाज के लोग डीजे बजाते हुए दबंगों के इलाके से गुजर रहे थे। इसी दौरान दबंगों ने दलित समाज के लोगों से डीजे बंद करने को कहा जिसे मानने से उन लोगों ने इनकार कर दिया।

फायरिंग में एक दलित लड़की की मौत

इसी को लेकर दोनों पक्षों में विवाद बढ़ा, जिसके बाद दबंगों ने दलितों पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। जिसमें 15 वर्षीय चांदनी नाम की लड़की की मौत हो गई और 4 अन्य घायल हो गए। घायलों को देर रात पटना के पीएमसीएच लाया गया जहां उनका इलाज चल रहा है। घटना के बाद इलाके में तनाव की स्थिति पैदा हो गई और देर रात दबंगों ने दलितों की बस्ती पर जमकर पथराव भी किया। जिसके बाद पुलिस ने मौके पर क्विक रिएक्शन टीम को तैनात किया गया।

तनावपूर्ण हालात को काबू में करने के लिए भारी संख्या में स्थानीय पुलिस बल को भी लगाया गया है। देर रात से ही मौके पर पुलिस के आला अधिकारी लगातार कैंप कर रहे हैं और स्थिति को सामान्य बनाने की कोशिश की जा रही है। हालांकि, दलितों ने हाजीपुर में मंगलवार की सुबह रामाशीष चौक के पास सड़क जाम कर दिया और इस घटना के विरोध में जमकर प्रदर्शन भी किया।

पुलिस ने इस पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है और देर रात कई जगहों पर छापेमारी करने के बाद इस घटना में शामिल 11 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस पूरी घटना पर हाजीपुर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महेंद्र कुमार ने कहा है कि दोनों पक्षों के बीच बवाल डीजे बजाने को लेकर हुआ। महेंद्र कुमार ने कहा कि यह पूरा मामला वर्चस्व की लड़ाई का नतीजा है। पुलिस जातीय संघर्ष के एंगल से भी इस मामले की जांच कर रही है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement