Home National News Case Of Suicide In Jharkand Attempted By Student

समाज में तनाव कम तो विकास ज्यादा होगा: पीएम मोदी

POCSO एक्ट पर अध्यादेश को राष्ट्रपति की मंजूरी

भगोड़े आर्थिक अपराधियों पर अध्यादेश को राष्ट्रपति की मंजूरी

पी. चिदंबरम ने तेल कीमतों पर सरकार पर निशाना साधा

PAK अपने अधीन कश्मीरियों की बात सुनने को तैयार नहीं- नसीर अजीज

झारखंड: पढ़ाई में रही नाकाम तो मौत को लगाया गले!    

National | Last Updated : Nov 07, 2017 12:22 PM IST
   
Case of Suicide in Jharkand Attempted by Student

दि राइजिंग न्यूज़

रांची।

 

रांची में बीस वर्षीय स्टूडेंट ने इम्तेहान में खराब परिणाम आने की वजह से ख़ुदकुशी कर ली। छात्रा का नाम मेघा प्रजापति है, जिसने हॉस्टल के रूम में फांसी लगाकर खुद को खत्म किया है। मेघा यहां मारवाड़ी कॉलेज से अंग्रेजी में ग्रेजुएशन कर रही थी, लेकिन लंबे समय से उसका एग्जाम में प्रदर्शन ठीक नहीं था।

 

पुलिस को मौके से सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें मेघा ने साफ तौर पर जाहिर किया है कि 3 नवंबर को होने वाले एग्जाम में उसने बेहतर प्रदर्शन नहीं किया तो उसका करियर खतरे में पढ़ जाएगा।  ये हादसा मेघा से एग्जाम से करीब 3 दिन पहले हुआ है। मीडिया रिपोर्ट्स  के मुताबिक पुलिस का कहना है कि ये मामला सुसाइड का है, क्योंकि मौके से नोट बरामद किया गया है।

पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। हालांकि, मेघा के परिवार का दावा है कि ये मर्डर है। सूत्रों के मुताबिक मारवाड़ी कॉलेज ने बताया कि मेघा का प्रदर्शन काफी खराब था और उसके मार्क्स अच्छे नहीं आने की वजह से सेकेंड इयर में उसे जगह नहीं मिल सकती थी।

 

बताया जा रहा है कि मेघा की बहन नेहा प्रजापति भी इसी कॉलेज में पढ़ रही है। नेहा का कहना है कि सुसाइड से ठीक पहले वह अपनी बहन के साथ थी। उसने कहा कि मेघा ने कभी ऐसा महसूस नहीं करवाया कि वे डिप्रेशन में है। बता दें कि नेशनल क्राइम रिकॉर्ड्स ब्यूरो (एनसीआरबी) के आंकड़ों के मुताबिक भारत में हर घंटे में एक स्टूडेंट अपनी जिंदगी को खत्म करता है। वहीं साल 2015 में करीब 9 हजार स्टूडेंट्स ने खुद को खत्म किया था।


"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555




Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


Most read news


Loading...

Loading...