Irrfan Khan Writes an Emotional Letter About His Health

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।


दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में कर्मचारियों ने एक नवजात को कथित तौर पर मृत घोषित कर दिया, लेकिन अंतिम संस्कार के पहले वो जिंदा हो गया।


जी हां, यह कोई फिल्मी कहानी नहीं बल्कि यह सच्ची घटना यहां के सफदरजंग अस्पताल की है। गौरतलब है कि यह घटना तब घटित हुई जब बदरपुर की एक निवासी ने शिशु को जन्म दिया। अस्पताल के कर्मचारियों को इस बच्चे में कोई हरकत नजर नहीं आई।


बच्चे के पिता रोहित ने कहा, डॉक्टर और नर्सिंग कर्मचारियों ने बच्चे को मृत घोषित कर शव को एक पैक में बंद कर उसपर मोहर लगा दी और अंतिम संस्कार के लिए हमें थमा दिया। मां की हालत ठीक नहीं थी तो वह अस्पताल में ही भर्ती है जबकि पिता और परिवार के अन्य सदस्य शव को लेकर घर आए और अंतिम संस्कार की तैयारी शुरू कर दी।


कुछ देर बाद रोहित की बहन ने पैक में कुछ हरकत महसूस की और जब उसे खोला गया तो बच्चे की धड़कन चल रही थी और वह हाथ पैर चला रहा था। सफदरजंग अस्पताल प्रशासन ने मामले की जांच का आदेश दिया है।


यह भी पढ़ें

सवालों पर भड़के लालू, दे डाली गाली 

सलमान का जंग पर बड़ा बयान, पढ़िए क्‍या कहा

"नौकरी नहीं, दोषियों पर कार्रवाई चाहिए"

..तो मोदी के सामने झुक गए केजरीवाल!

झारखंड में अब एक रुपये में होगी रजिस्‍ट्री

राहुल को इतनी जल्‍दी नानी याद आ गईं

सुनिए नवाज़ शरीफ का जवाब..... 

ट्रम्प हुए 71 साल के,पद संभालते ही बन गए थे 

कहीं ये पाक सेना प्रमुख के आदेश तो नहीं...!

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

The Rising News

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll