Home National News Author Kancha Ilaiah Gets Threatening Calls

आतंक का रास्ता छोड़ने वालों पर नहीं होगी कार्रवाई: DGP वैद

पश्चिम बंगाल: सिलीगुड़ी में 2 बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हमला, गंभीर रूप से घायल

उम्मीद है कि कश्मीर जल्द ही हिंसा मुक्त हो जाएगा: DGP वैद

दिल्ली: पूर्व सीएम एनडी तिवारी को अस्पताल देखने पहुंचे सीएम योगी

बीजेपी नेता अनिज विज ने कांग्रेस पर लगाया शहीदों के अपमान का आरोप

लेखक को मिली जीभ काट देने की धमकी

National | 11-Sep-2017 05:25:53 PM | Posted by - Admin

   
Author Kancha Ilaiah gets threatening calls

दि राइजिंग न्‍यूज

आउटपुट डेस्‍क।

 

लेखकों और बुद्धजीवियों पर हमले और धमकियों का सिलसिला पुराना नहीं है। एक बार फिर ऐसा ही हुआ है।

 

लेखक डॉ. कांचा इल्लैया को जीभ काट देने की धमकी मिली है। हैदराबाद ओस्मानिया यूनिवर्सिटी पुलिस स्टेशन में उन्‍होंने शिकायत दर्ज करवाई है।

उन्होंने कहा कि उन्हें रविवार से लगातार धमकी भरे फोन आ रहे हैं, फोन उठाने पर उन्हें धमकी दी जा रही है और अपशब्द बोले जा रहे हैं। डॉ. इल्लैया ने एक किताब लिखी थी, जिसमें उन्होंने वैश्य समाज के लोगों को “सामाजिक तस्कर” बताया था। इसके बाद से उनका विरोध हो रहा है।

 

उन्होंने पुलिस में दर्ज कराई शिकायत में लिखा है, “10 सितंबर से मुझे अज्ञात लोगों के लगातार फोन आ रहे हैं, जब मैं फोन उठाता हूं तो वो लोग मुझसे गंदे तरीके से बात कर रहे हैं। दोपहर में रामकृष्णन के नेतृत्व वाले संगठन आर्य-वैश्य संगम टीवी चैनलों में पर मेरी निंदा कर रहा है। शाम को टीवी9 पर रमाना ने कहा कि वे लोग मेरी जीभ काट देंगे।”

आंध्र ज्योति के मुताबिक रविवार को मेरे पुतले फूंके गए हैं और मुझे अपशब्द कहे गए हैं। आर्य वैश्य नेता कचम सत्यनारायण, राचामल्ला वेंकटेश्वरलु और बुरुगु रविकुमार और अन्य लोग मेरे खिलाफ ये डराने वाली गतिविधियां कर रहे हैं।

 

साथ ही उन्होंने लिखा है, “इन धमकी और गाली वाली कॉल और मैसेज से खतरा महसूस हो रहा है। अगर मेरे साथ कुछ भी होता है तो ये लोग इसके लिए जिम्मेदार होंगे। ये लोग लगातार मुझे कॉल कर रहे हैं। इस वजह से मैं एक कॉल भी किसी को नहीं कर पा रहा हूं, क्योंकि मेरे फोन पर उनकी कॉल लगातार आ रही हैं। हालांकि, मुझे यह भी मालूम है कि कुछ मीडिया के लोग मुझे कॉल कर रहे होंगे, लेकिन मैं उनकी कॉल भी नहीं उठा पा रहा हूं। लेकिन जो दूसरे नंबर हैं, उनकी जांच होनी चाहिए और उन्हें गिरफ्तार किया जाना चाहिए।”

वैश्य संगठन डॉ. कांचा इल्लैया की किताब सामाजिका स्मगलुरलु कोमाटोल्लु (वैश्य लोग सामाजिक तस्कर हैं) का विरोध कर रहे हैं। वैश्य संगठनों ने शिकायत की है कि किताब का शीर्षक और इसका कुछ हिस्सा हमारे समाज के खिलाफ लिखा गया है। इन संगठनों ने मांग की है कि इस किताब को तुरंत वापस लिया जाए।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555



संबंधित खबरें



HTML Comment Box is loading comments...

Content is loading...




TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll


What-Should-our-Attitude-be-Towards-China


Photo Gallery
गोमती तट पर दीप आरती करती महिलाएं। फोटो- अभय वर्मा



Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news


sex education news