Home National News Amit Shah Comments On Lok Sabha And Vidhan Sabha Chunav

ग्वालियरः ट्रेन में लगी आग में 33 डिप्टी कलेक्टर ट्रेनिंग करके लौट रहे थे, यात्री सुरक्षित

दिल्ली: लैंडफिल साइट्स को लेकर NGT ने सुनवाई जुलाई तक टाली

ओडिशा: ब्रह्मोस मिसाइल का सफलता परीक्षण किया गया

J-K: अरनिया में गोलीबारी बंद, इलाके में यातायात बहाल

उन्नाव रेप केस: 30 मई को होगी मामले की अगली सुनवाई

लोकसभा-विधानसभा चुनाव फ़िलहाल साथ नहीं हो सकते: अमित शाह

National | Last Updated : May 09, 2018 12:28 PM IST

Amit Shah Comments on Lok Sabha and Vidhan Sabha Chunav


दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने इस संभावना को खारिज कर दिया है कि 2019 के लोकसभा चुनाव समय से पहले हो सकते हैं। साथ ही, उन्होंने यह भी कहा कि लोकसभा और विधानसभा के चुनाव फिलहाल एक साथ कराना भी संभव नहीं है, क्योंकि यह राजनीतिक सहमति बनाए बिना नहीं हो सकता।

 

अख़बार को दिए एक इंटरव्यू में अमित शाह ने यह बातें कही। शाह से सवाल किया गया था कि क्या एनडीए सरकार समय से पहले चुनाव कराने पर विचार कर रही है, तो इस पर शाह ने कहा, नहीं। गौरतलब है कि तय समय के मुताबिक लोकसभा के चुनाव अगले साल मई के आसपास होने चाहिए। इस बात की सोशल मीडिया, मेनस्ट्रीम मीडिया, सभी जगह खूब चर्चा थी कि लोकसभा के चुनाव इस साल के अंत में राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के चुनाव के साथ ही कराए जा सकते हैं। पीएम मोदी ने लोकसभा और सभी विधानसभाओं के चुनाव एक साथ कराने की वकालत की थी, जिसके बाद इस तरह की चर्चाओं और आधार मिल गया।

अमित शाह ने इंटरव्यू में कहा, “पीएम ने देश के सामने एक विचार रखा है (सभी चुनाव साथ कराने का) और उन्होंने इस पर सार्वजनिक चर्चा करने की बात कही है लेकिन इस मामले में प्रगति तभी हो सकती है, जब सभी राजनीतिक दल इसका समर्थन करें और इसके बारे में कानून बनाया जाए। इस पर चुनाव आयोग की भी सहमति होगी, तब ही चीजें आगे बढ़ेंगी।”

 

उन्होंने कहा, “सभी राजनीतिक दल इस पर एकमत हो जाते हैं तो यह कभी भी हो सकता है। इसके लिए आरपी एक्ट (जनप्रतिनिधि‍त्व कानून) में बदलाव करना होगा और यह संसद में ही हो सकता है। इसे कोई गुपचुप नहीं कर सकता।”

गौरतलब है कि विधि आयोग भी देशभर में एक साथ लोकसभा और विधानसभाओं के चुनाव कराने पर जल्दी ही अपनी सिफारिश देने वाला है। फिलहाल आयोग ने इस बाबत विचार करने के लिए मसौदा तैयार कर लिया है।



" जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555 "


Loading...


Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


rising@8AM


Loading...