FIR Registered Against Singer Abhijeet Bhattacharya For Misbehavior From Woman

दि राइजिंग न्यूज़

भोपाल।

 

दुनिया में जहां सभी लोग खुद के लिए जीते हैं तो वहीं कुछ ऐसे भी होते हैं जो दूसरों की जिंदगी को रौशन करने की जद्दोजेहद में लगे रहते हैं। ऐसा ही कारनामा कर दिखाया है भोपाल में रहने वाले 14 वर्षीय आयुष किशोर ने। राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित इस बच्चे ने अपनी प्राइज मनी को चार कैदियों को देने का निर्णय लिया है, जो फाइन ना दे पाने की वजह से आजाद होने का सपना खो चुके थे। गौरतलब है कि किशोर को राष्ट्रपति से 10,000 रुपए जबकि स्कूल से 28,000 रुपए की प्राइज मनी मिली थी। उसे उन्होंने जेल में बंद कैदियों की भलाई के लिए खर्च करने की इच्छा जाहिर की थी।

आयुष की मां जोकि एक पुलिस अधिकारी हैं, बताती हैं कि उनका बेटा अक्सर जेल की जिंदगी के बारे में सवाल करता रहता था। आयुष अपनी प्राइज मनी के जरिए जिन कैदियों की मदद कर रहा है उनमें 46 साल के श्रीजन सिंह शामिल हैं। इनपर हत्या का आरोप है लेकिन अच्छे आचरण की वजह से उन्हें गणतंत्र दिवस के मौके पर रिहा किया जाने वाला था। परिवार ने उनका त्याग कर दिया था जिसकी वजह से वो फाइन के 5,000 रुपए नहीं दे पा रहे थे। उन्हें खुद के समय से पहले बाहर जाने की उम्मीद नहीं थी लेकिन किशोर उनके लिए आशा की एक किरण साबित हुए हैं।

उप-जेल अधीक्षक पीडी श्रीवास्तव ने बताया कि आयुष अपनी प्राइज मनी उन चार कैदियों को दे रहा है जो एक दशक से ज्यादा समय से जेल में बंद हैं। वहीं आयुष ने बताया- मेरी मां ने मुझे बताया कि ऐसे बहुत से कैदी हैं जो काफी गरीब हैं। वो जेल के अंदर सालों से काम करके अपने फाइन को चुका रहे हैं। कुछ ऐसे हैं जो अपनी आजादी के लिए 2,000 रुपये भी नहीं दे सकते। मैंने ऐसे ही कैदियों की मदद करने का निर्णय लिया।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Public Poll