Mahaakshay Chakraborty and Madalsa Sharma jet off to US for Honeymoon

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने ऐलान किया था कि उनकी पार्टी कर्नाटक विधानसभा चुनाव लड़ेगी लेकिन अब वो अपनी बात से मुकरते हुए नज़र आ रहे हैं। उन्होंने इस चुनाव को लड़ने से साफ़ इंकार कर दिया है। ओवैसी ने कहा कि उनकी पार्टी कर्नाटक चुनाव में हिस्सा नहीं लेगी। वो जेडीएस का समर्थन करेंगे और उसके लिए प्रचार करेंगे। उन्होंने कहा कि हमें लगता है कि दोनों ही राष्ट्रीय पार्टियां पूरी तरह से विफल हो गई हैं।

 

गौरतलब है कि ओवैसी पर आरोप लगा था कि वह भाजपा के फायदे के लिए पीछे हट रहे हैं। इन आरोपों को खारिज करते हुए उन्होंने कहा- हमपर भाजपा को फायदा पहुंचाने के लिए वोट काटने के जो आरोप लगाए जा रहे हैं वह पूरी तरह से आधारहीन हैं। हमने गुजरात, झारखंड और जम्मू कश्मीर में चुनाव नहीं लड़ा था। उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र के लोकसभा चुनावों में भी हिस्सा नहीं लिया। वहां कांग्रेस के साथ क्या हुआ?

 

माना जाता है कि कर्नाटक के कुछ इलाकों में एआइएमआइएम की पकड़ काफी मजबूत है और इसकी क्षेत्रीय इकाई ने चुनाव के मद्देनजर उम्मीदवारों की लिस्ट भी तैयार कर ली थी। मगर पार्टी के अध्यक्ष और हैदराबाद से सांसद ओवैसी ने पार्टी के नेताओं संग कई बार सलाह-मशविरा करने के बाद चुनाव ना लड़ने का फैसला किया है। कर्नाटक की 224 विधानसभा सीटों पर 12 मई को मतदान होने हैं और 15 मई को वोटों की गिनती की जाएगी। इस चुनाव में कांग्रेस, भाजपा और जेडीएस के बीच कड़ा मुकाबला है।

 

हाल ही में ओवैसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा उपवास रखने को लेकर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि पीएम मोदी अपने झूठे वादों के लिए उपवास क्यों नहीं करते। क्या वो उन किसानों की मौत के लिए उपवास पर बैठेंगे जो अब इस दुनिया में नहीं हैं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll