Ali Asgar Faced Molestation in The Getup of Dadi

दि राइजिंग न्यूज़

गुरुग्राम।

 

एक पुलिस इंस्पेक्टर ने कथित तौर पर शराब के नशे में शॉर्ट्स और स्लीवलेस टी-शर्ट पहनकर अपने दोस्त के साथ शीतला माता रोड पर डांस किया। उनकी सफेद रंग की फॉर्च्यूनर गाड़ी में तेज म्यूजिक चल रहा था। उनकी गाड़ी बीच रोड पर पार्क थी जिसकी वजह से ट्रैफिक जाम हो गया। कुछ स्थानीय ढाबा मालिकों और ड्राइवरों ने उन्हें अपनी गाड़ी रोड से हटाने के लिए कहा लेकिन पुलिसवाले ने अपने पद का फायदा उठाते हुए कहा, “मैं इंस्पेक्टर हूं और रोड पर डांस कर सकता हूं।” पुलिसवाले ने उन सभी को वहां से भगा दिया।

 

आधे घंटे तक जारी रहा ड्रामा

पुलिसवाले की यह हरकत आधे घंटे तक जारी रही जिसकी वजह से गाड़ियों की लाइन लग गई। ड्राइवर मूक दर्शक बनकर इस अजीब डांस ड्रामा को देख रहे थे। कुछ देर बाद पुलिस पेट्रोलिंग की एक गाड़ी वहां पहुंची लेकिन इंस्पेक्टर ने हिलने से मना कर दिया और उनके साथ भी बदसलूकी की। इसके बाद पुलिस टीम ने इंस्पेक्टर और उनके दोस्त को अपनी जीप में डाला और सेक्टर-5 पुलिस स्टेशन ले गई।

नशे में धुत था इंस्पेक्टर

आरोपी पुलिस की पहचान तरुण दहिया के तौर पर हुई जोकि गुरुग्राम से 35 किलोमीटर दूर नूंह जिले के ताउरु क्राइम यूनिट का इंचार्ज है। सूत्रों का कहना है कि दहिया का परिवार गुरुग्राम पुलिस लाइन्स में रहता है और एसयूवी उसकी ही थी। सब-इंस्पेक्टर सकेंद्र कुमार द्वारा फाइल की गई रिपोर्ट के अनुसार दहिया और उनका दोस्त बीच रोड पर खड़ी एसयूवी के सामने रात के 1.20 मिनट पर डांस कर रहे थे।

 

मामले को रफा-दफा कर दिया गया

पुलिस सूत्रों ने दावा किया है कि एसीपी (लॉ एंड ऑर्डर) जय सिंह और पास के थाने के एसएचओ को बुलाया गया। यह सभी उस समय पुलिस स्टेशन में मौजूद थे जब दहिया को सेक्टर-5 पुलिस स्टेशन लाया गया था। अधिकारियों ने फैसला लिया कि वह इस मामले को यहीं रफा-दफा कर देंगे क्योंकि इससे पुलिस विभाग की बेइज्जती होगी। कुछ घंटो बाद दहिया को उनके दोस्त के साथ घर जाने की इजाजत दे दी गई।

गुरुग्राम पुलिस कमिश्नर का बयान

वहीं इस मामले पर गुरुग्राम पुलिस कमिश्नर केके राव का कहना है कि उन्होंने इंस्पेक्टर के निलंबन के लिए नूंह एसपी को लिख दिया है। उन्होंने कहा, “यह असहनीय है। यदि कोई आम आदमी ऐसा करता तो उसे छोड़ा नहीं जाता। तो फिर एक पुलिसवाले को क्यों जिसे कि अपेक्षाकृत ज्यादा जिम्मेदार होना चाहिए। उसे अलग तरीके से क्यों ट्रीट किया जाए? मैंने दक्षिण रेंज के आईजी और नूंह एसपी के पास एक रिपोर्ट भेज दी है। इंसपेक्टर के खिलाफ विभागीय जांच होगी।”

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement