Shahrukha Khan Son Abram Reaction on Zero Trailer

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह का हमेशा से ही विवादों से गहरा नाता रहा है। वह कभी कुछ बोलकर तो कभी कोई गलत फोटो ट्वीट कर विवादों में बने रहते हैं। हालांकि इसबार उन्होंने अपनी गलती स्वीकार कर माफी मांग ली है। रविवार को वे शिवराज सरकार के विकासकार्यों की पोल खोलना चाहते थे लेकिन उनकी खुद की पोल खुल गई। खुद को फंसता देख उन्होंने झट से माफी मांग ली। हुआ कुछ यूं कि उन्होंने पाकिस्तान के एक पुल की दरार पड़ी तस्वीर ट्वीट कर उसे भोपाल का एक रेलवे पुल होने का दावा किया। 

 

गलत फोटो शेयर कर बुरे फंसे

उन्होंने पुल की तस्वीर अपने ट्विटर हैंडल पर साझा करते हुए लिखा था “यह पिलर भोपाल में सुभाष नगर रेल फाटक पर निर्माणाधीन रेल पुल का है। पिलर पर दरारों से उसकी गुणवत्ता पर सवाल उठ रहे हैं, मैं उम्मीद करता हूं कि जो वाराणसी में हुआ वह यहां नहीं होगा।”

ट्विटर पर पोस्ट की गई जानकारी की जांच करने वाली वेबसाइट “एल्टन्यूज” ने सिंह का ध्यान इस गलती की ओर दिलाते हुए लिखा कि यह दरार पड़ा पुल पाकिस्तान के रावलपिंडी का है। यह क्षतिग्रस्त मेट्रो के एक पिलर की पुरानी तस्वीर है।

 

यही नहीं एल्टन्यूज ने ट्वीट में यह भी लिखा, “यह क्षतिग्रस्त पिलर की तस्वीर सोशल मीडिया पर समय-समय पर इस्तेमाल की जाती रही है और हर बार इसे अलग-अलग स्थान के होने की बात कही जाती रही है।”

जैसे ही एल्टन्यूज के ट्वीट पर सिंह का ध्यान गया, तुरंत ही जवाब में दिग्विजय सिंह ने ट्वीट किया, “मैं  अपनी इस गलती के लिए माफी मांगता हूं। मेरे एक मित्र ने इसे मुझे यह फोटो भेजी थी, यह मेरी गलती है कि मैंने इसकी जांच किए बिना ट्विटर हैंडल पर शेयर किया।”

 

यही फोटो 2016 में तेलंगाना सरकार को निशाना बनाने के लिए शेयर की गई थी। उस समय भी तेलंगाना के शहरीविकास मंत्री के.टी रामा राव ने 3 अगस्त 2016 को इस पोल के बारे में बताया था कि यह रावलपिंडी के एक पुल की फोटो है। तब उस ट्विटर यूजर ने इस फोटो के मामले में मंत्री से संज्ञान लेने को कहा था।

शबाना आजमी भी हुईं थी इसका शिकार

यही नहीं इस महीने की शुरुआत में अभिनेत्री शबाना आजमी को भी एक ऐसी ही गलती के लिए रेल मंत्रालय से माफी मांगनी पड़ी थी जब उन्होंने एक वीडियो शेयर कर दिया था जिसमें दिख रहा था कि रेलवे का कर्मचारी गंदे पानी से बर्तन धोता दिखाया गया था। रेलवे ने तब यह साफ किया था कि यह वीडियो मलेशिया का है। उसके बाद शबाना ने भी रेलवे से माफी मांगी थी।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement