Home Lucknow News Walks March By Wine Traders In Lucknow City

प्रिंस विलियम और केट मिडलटन बने माता पिता, बेटे का जन्म

हमें उम्मीद है आने वाले समय में कुछ नक्सली सरेंडर करेंगे: महाराष्ट्र DGP

दिल्ली: मानसरोवर पार्क के झुग्गी-बस्ती इलाके में लगी आग

कांग्रेस का लक्ष्य है "हम तो डूबेंगे सनम तुम्हें भी साथ ले डूबेंगे": मीनाक्षी लेखी

कावेरी जल विवाद: विपक्षी पार्टियों का मानव श्रृंखला बनाकर विरोध प्रदर्शन

शराब कारोबारियों ने मार्च निकाल जताया रोष

Lucknow | Last Updated : Jan 08, 2018 09:30 PM IST
  • बड़े ग्रुप बनाने और नवीनीकरण न किए जाने का कर रहे विरोध
   
Walks March by Wine Traders in Lucknow City

दि राइजिंग न्यूज

लखनऊ।

 

प्रदेश में शराब की दुकानों के व्यवस्थापन के लिए बड़े ग्रुप बनाने तथा पुराने कारोबारियों के लाइसेंस का नवीनीकरण न किए जाने के विरोध में शराब कारोबारियों ने लालबाग से जीपीओ तक पैदल मार्च किया। कारोबारियों के मुताबिक सरकार की यह नीति छोटे कारोबारियों के लिए परेशानी का सबब बनने वाली है। कारण है कि सरकार ने शराब की दुकानों का व्यवस्थापन इस बार लाटरी के जरिए करने का निर्णय किया है और इसके लिए कारोबारियों से ग्रुप में आवेदन मांगे है।

 

 

एक ग्रुप में छह से आठ दुकानों का व्यवस्थापन होगा। अर्थात् इसके लिए लाइसेंस शुल्क ही कई करोड़ रुपये होगा। इससे छोटे कारोबारी अपने आप बाहर हो जाएंगे। इसी तरह से सरकार की नई नीति के मुताबिक इस बार शराब दुकानों के लाइसेंस का नवीनीकरण नहीं किया जा रहा है, नतीजा इस कारोबार से जुड़े हजारों लोगों के सामने जीविका का संकट आ गया है।

इसके विरोध में लखनऊ शराब एसोसिएशन के तत्वावधान में कारोबारियों ने पैदलमार्च निकाल कर विरोध जताया और मांगपत्र दिया।

 

 

शराब एसोसिएशन के महामंत्री कन्हैयालाल मौर्या ने बताया कि सरकार की नीति से शराब के कारोबार में फिर सिंडीकेट हावी हो जाएंगे। पूर्ववर्ती सरकार के समय सिंडीकेट को कारोबार से बाहर करने के लिए ही नवीनीकरण की योजना बनी थी। लाइसेंस शुल्क में इजाफे के साथ लाइसेंस का नवीनीकरण कर दिया जाता था लेकिन अब एकदम नई व्यवस्था कर दी गई है। यही नहीं व्यवस्था के तहत जो प्रावधान हैं, उससे छोटे कारोबारी लाटरी में शामिल भी नहीं हो सकेंगे।

 

लिहाजा उनका कारोबार समाप्त हो जाएगा। इससे एसोसिएशन में जबरदस्त असंतोष व्याप्त है। कारोबारी इसके लिए सड़क पर संघर्ष करने से भी पीछे नहीं हटेंगे। पैदल मार्च में कन्हैयालाल मौर्य, एसपी सिंह, विकास, नरेंद्र जायसवाल, सुरेश जायसवाल आदि लोग शामिल थे।


"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555 "


Loading...



Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


Most read news


Loading...