Home Lucknow News Traffic Jam In Hazratganj

तेलंगाना: हाकिमपेट में चॉपर दुर्घटनाग्रस्त, महिला कैडेट घायल

गुरुग्रामः अरावली में तेंदुए की संदिग्ध हालत में मौत, चोट के निशान मिले

आतंकी हाफिज सईद ने फिर अलापा कश्मीर राग, कहा- जारी रहेगी लड़ाई

नाक, गला काटने पर इनाम देने वाले की आलोचना राष्ट्रविरोध तो नहीं-जावेद अख्तर

दिल्ली: ACB चीफ मुकेश मीणा को मिजोरम ट्रांसफर किया गया

हजरतगंज में ट्रैफिक की बात, ना बाबा ना  

Lucknow | 17-Aug-2017 01:45:45 PM | Posted by - Admin

  • वीवीआईपी कल्‍चर आ रहा आड़े
  • ट्रैफिक कर्मियों के रोकने पर भड़क रहे प्रभावशाली

   
Traffic Jam in Hazratganj

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

शासन और प्रशासन के निर्देश पर ट्रैफिक नियंत्रण के लिए की जा रही कार्रवाई पर हजरतगंज में ट्रैफिक कर्मियों के हाथ-पैर फूल रहे हैं। आलम यह है कि प्रभावशाली लोगों के कारण उल्‍टा पुलिस को ही खरी-खोटी सुननी पड़ रही है। अभी बीते दिनों गैर जिले में तैनात एक न्‍यायाधीश के वाहन का चालान क्‍या हो गया उन्‍होंने कांस्‍टे‍बल पर अभद्रता का आरोप लगाते हुए उसे सस्‍पेंड करवा दिया। जबकि सीसीटीवी फुटेज में न्‍यायाधीश के साथ किसी भी प्रकार की अभद्रता की बात सामने नहीं आई है।

 

 

इसी तरह गोमतीनगर सीओ कार्यालय में आए एक भाजपा नेता ने क्षेत्राधिकारी से खुद का चालान काटे जाने पर पुलिस कर्मियों पर ही अभद्रता का आरोप लगा दिया। सीओ ऑफिस आए इन महानुभाव ने बिना चालान राशि दिए ही वाहन छुड़ाकर ले गए। इतना ही नहीं वाहन को छुड़ाने के लिए मुख्‍यमंत्री के ओएसडी से लेकर विधायक तक का जोर पहले ही लगा चुके थे। बाद में उनके चालान की राशि पुलिस कोष से जमा की गई। ऐसा कोई एक आध मामला नहीं है बल्कि कई जगहों पर यह सब आए दिन देखने को मिलता रहता है।

 

 

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के शपथ ग्रहण के बाद पहले ही संबोधन में ट्रैफिक पर सुधार करने की बात कही गई थी, लेकिन चार माह बीतने को आए इसके बाद भी अभी तक कोई भी जमीनी सुधार होता नहीं दिख रहा है। हजरतगंज, चौक, निशातगंज, परिवर्तन चौक, कैसरबाग, चारबाग जैसे व्‍यस्‍ततम क्षेत्रों के चौराहे अवैध ऑटो, टेंपों स्‍टैंड से भरे पड़े हैं। प्रतिबंधित क्षेत्रों में भी कोने-कोने पर ई-रिक्‍शा और रिक्‍शा फर्राटा भर रहे हैं। इतना ही नहीं कई जगहों पर न केवल पुलिस वाले स्‍टैंड चलवा रहे हैं बल्कि कमीशन भी ले रहे हैं। अब जब इन्‍हीं से पुलिस और प्रशासन की दुकानें चकाचौंध हो रही हैं तो आखिर बिल्‍ली के गले में घंटी कौन बांधे।

 

 

धरी रह गई स्‍कूली वाहनों पर लगाम लगाने की कवायद

हजरतगंज के कैथ्रेडल, सेंटफ्रांसिस, लालबत्‍ती स्थित लरेटो, जीपीओ के क्राइस्‍टचर्च जैसे स्‍कूली वाहनों को पार्किंग में खड़ी करने की कवायद धरी की धरी रह गई। जिला प्रशासन और ट्रैफिक पुलिस ने इन वाहनों को मल्‍टी लेवल पार्किंग पर खड़ा करने की योजना बनाई थी इसके लिए डीएम कौशल राज शर्मा ने 600 की स्‍टैंड फीस 200 रुपये करवा दी। इसके बाद भी स्‍कूली वाहन पार्किंग में नहीं खड़े हो रहे हैं।

स्‍टैंड की फीस स्‍कूल वाले देना नहीं चाहते इसके लिए वह अभिभावकों के साथ बैठक करके मामले को सुलझाने का दावा करते रहे लेकिन सब कुछ हवा हवाई रहा और इसका नतीजा यह हुआ कि अब न तो यह वाहन पार्किंग में खड़े हो रहे हैं और न ही कोई कार्ययोजना बन रही है।

 

 

एनाउंसमेंट बन रहा है उपहास

हजरतगंज में मल्‍टी लेवल पार्किंग में बनाए गए मॉर्डन कंट्रोल रूम से गलत पार्किंग करने पर ई-चालान और वाहन उठाए जाने का एनाउंसमेंट किया जाता रहता है। हालांकि यह अपने आप में ही उपहास का पात्र बना हुआ है क्‍योंकि आसपास के अधिकतर कैमरे काम ही नहीं कर रहे हैं। साथ ही साथ कंट्रोल रूम में लगाए गए कई एलसीडी भी खराब हैं। उल्‍लेखनीय है कि हजरतगंज चौराहे के आसपास और डीएम आवास तक सड़क के दोनों ओर वाहन खड़ा करना प्रतिबंधित है।

 

 

“प्रभावशाली लोगों के कारण चालान काटने में दिक्‍कतें आती हैं। टीएसआई, कांस्‍टेबल को अक्‍सर ही वर्दी उतरवाने की धमकी मिलती हैं। यही कारण है कि ट्रैफिक कर्मी चालान जैसी कार्रवाई करने के पहले हजार बार सोंचता है कि कब अपमानित होना पड़ जाए। फिर भी हजरतगंज सहित अन्‍य जगहों पर ट्रैफिक सुधार के प्रयास किए जा रहे हैं।”

रवि शंकर निम

एएसपी यातायात

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555



संबंधित खबरें



HTML Comment Box is loading comments...

Content is loading...




गैजेट्स

TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll


What-Should-our-Attitude-be-Towards-China


Photo Gallery
गोमती तट पर दीप आरती करती महिलाएं। फोटो- अभय वर्मा



Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news


sex education news