Why Cheat India Social Media Reaction

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

समय-समय पर प्रदेश के कई जिलों से ऐसी तस्वीरे आती रहती हैं जहां स्ट्रेचर के अभाव में मरीजों को कभी मरीजों को कंधे... कभी ट्रॉली तो कभी गोद में उठाकर इलाज के लिए ले जाता है। वहीं, लखनऊ के किंग जार्ज मेडिकल कॉलेज में स्ट्रेचर का अनोखा इस्तेमाल देखने को मिला है। केजीएमयू के ट्रॉमा सेंटर में स्ट्रेचर पर ईंटों को ढोते हुए एक जगह से दूसरी जगह ले जाया जा रहा था।

एक तरफ जहां मरीजों को स्ट्रेचर नहीं मिलते हैं तो वहीं दूसरी तरफ इसे ईंटें ढोने के काम में लिए जा रहा। इस पूरे मामले को लेकर जब ट्रॉमा सेंटर के एमएस डॉ. संतोष कुमार से बात की गई तो उन्होंने माना कि ईंट ढोने में स्ट्रेचर का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए।

 

 

डॉक्‍टर ने कहा कि अगर ऐसा कुछ है तो इसको देखेंगे और कार्रवाई करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि हमारे अस्पताल में पर्याप्‍त बेड हैं, लेकिन अगर मरीज की जान की बात आए तो उसे जरूर एडमिट किया जाएगा। फिर चाहे उसका बेड स्‍ट्रेचर या जमीन पर ही क्‍यों न लगाना पड़े।

https://www.therisingnews.com/?utm_medium=thepizzaking_notification&utm_source=web&utm_campaign=web_thepizzaking&notification_source=thepizzaking

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement