Neha Kakkar Reveald Her Emotional Connection with Indian Idol

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

राजस्व व पुलिस की संयुक्त टीम के माध्यम से गांवों के विवादित मामलों को मौके पर ही निस्तारण करने के लिए राजधानी के सरोजनी नगर तहसील में जिलाधिकारी के निर्देश पर श्रावस्ती मॉडल प्रक्रिया दोबारा शुरू की गई है। इसी क्रम में गुरुवार को तहसील के ग्राम विरुरा में तहसीलदार के नेतृत्व में गठित राजस्व निरीक्षक तहसीलदार उमेश कुमार सिंह, राजस्‍व निरीक्षक पूर्णिमा तिवारी, प्रधान राजेंद्र लेखपाल, ज्ञान अवस्थी, राजेंद्र बहादुर, अंबिका, मृत्युंजय बाज़पेई ने भूमि विवाद से संबंधित मामलों का निस्तारण किया।

 

 

वहीं तहसील के ही नूरनगर भदरसा गांव में तहसीलदार सरोजनीनगर उमेश कुमार सिंह, राजस्व निरीक्षक परगना बिजनौर पूर्णिमा तिवारी व थानाध्यक्ष बंथरा के नेतृत्व में राजस्व टीम व पुलिस ने गांव के प्राथमिक विद्यालय में ग्रामीणों की समस्याओं के साथ ही भूमि सीमांकन, सरकारी भूमि अतिक्रमण, चकरोड पर अवैध कब्जे, पात्रों को पट्टा वितरण के मामलों सहित तहसील समाधान दिवस, थाना समाधान दिवस, मुख्यमंत्री संदर्भ, आरजीएस और जनसुनवाई के दौरान आने वाले राजस्व मामलों को ग्रामीणों को मौके पर बुलाकर भौतिक रूप से देखा।

 

 

तहसीलदार उमेश कुमार सिंह ने बताया कि नूरपुर, असरफनगर व आसपास के गांव में भूमि प्रबंधन समिति द्वारा भेजे गए भूमिहीन पात्रों के लिए 25 ग्रामीणों को भूमि पट्टा देने का चयन किया गया है। इसके साथ ही सरकारी भूमि पर अवैध रूप से अनाधिकृत 20 ग्रामीणों को भूमि से बेदखली के लिए नोटिस जारी करने के निर्देश के साथ ही मौके पर छह भूमि विवादों को हल करने व गांव के दो किसानों की तत्काल वरासत का आदेश दिया गया है। जल्द ही तहसील के अन्य गांवो में क्रमवार बैठक की जाएगीं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll