Actress katrina Kaif and Mouni Roy Visited Durga Puja Pandal

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

एएसपी ट्रैफिक साहब आप भले ही ट्रैफिक पुलिस का पक्ष लें लेकिन यह पब्लिक की सुनती है और ना ही आपकी... क्‍योंकि ट्रैफिक पुलिस चौराहों पर काम करना ही नहीं चाहती। इस दौरान यदि ऊपर से वीवीआइपी ड्यूटी का बहाना हो जाए तो फिर सोने पर सुहागा हो जाता है। सप्‍ताह के पहले ही दिन सोमवार को कैसरबाग चौराहे पर कुछ ऐसा ही हाल देखने को उस समय मिला जब दोपहर में जाम लगा तो ट्रैफिक कांस्‍टेबल धूप लेने में मशगूल रहा। कैमरा चमका तो पानी की बोतल उठाकर सुस्‍ती भी दूर की लेकिन चौराहे पर निकलने की जहमत फिर भी ना उठाई। इस दौरान एंबुलेंस से लेकर आम आदमी तक जाम में जूझते रहे।  

शहर के ऐतिहासिक चौराहों में शुमार कैसरबाग का अशोक लाट चौराहा दोपहर ढ़ाई बजे के आसपास जाम का शिकार हो गया। यहां पर तैनात ट्रैफिक कांस्‍टेबल वीमोर के सामने पड़े तखत पर बैठकर धूप ले रहा था। यही कारण रहा कि कलेक्‍ट्रेट, कैसरबाग बस स्‍टेशन की ओर से आने वाले, अमीनाबाद, नजीराबाद चौक से आने वाला मार्ग, लालबाग सहित सभी रास्‍ते जाम हो गए। इस जाम से ना केवल सभी वाहन एक दूसरे के आमने-सामने आ गए बल्कि लोगों ने रांग साइड में अपनी गाड़ी दौड़ा दी। इससे कई हादसे होते-होते बचे। लोगों ने वाहन मोड़कर आसपास के लिंक मार्ग पकड़ा तो वह भी जाम हो गए।

खचाखच गाडि़यों से पटने के बाद रही सही कसर रोड़वेज बसों ने पूरी कर दी। यह जाम कैसरबाग थाने से होते हुए आगे बढ़ा तो थाने से कुछ कांस्‍टेबल चौराहे पहुंचे तो ट्रैफिक जैसे-तैसे यातायात चलने लगा। हालांकि घंटों की कड़ी मेहनत के बाद जाम से निजात मिला। हालांकि ट्रैफिक कांस्‍टेबल अपनी ड्यूटी को धूप में खड़े हो कर ही गुजारता रहा। वहीं पर एक दो दोपहिया वाहन चालकों को रोक कर उनकी जांच होती रहीं। हालांकि देर शाम तक लाइन में वहां पर चालान की गिनती का अता पता नहीं था।

एएसपी यातायात रवि शंकर निम वीआईपी ड्यूटी के कारण जाम लगने की बात कह कर कांस्‍टेबल का बचाव करते हों लेकिन उन्‍हीं के विभाग का कर्मी चौराहे पर किस तरह ड्यूटी कर रहा है यह उन्‍हें नहीं पता चल पाता। शायद कांस्‍टेबल को भी पता है कि वीआइपी ड्यूटी होने के कारण जाम लगने पर उससे पूछताछ भी नहीं होगी। क्‍योंकि चौराहे पर पहले से ही फोर्स कम है। इसलिए मनमर्जी काम करना उसकी पहचान बन गया। अब आम आदमी जाम में उन्‍हें इससे कोई मतलब नहीं आखिर ड्यूटी तो हो ही रही है ना...

“ट्रैफिक कर्मियों को चौराहों से हटाकर वीवीआइपी ड्यूटी के लिए लगाया गया था। इसलिए ट्रैफिक लोड बढ़ने के कारण जाम लग गया। प्रति सोमवार हाईकोर्ट की ओर भी स्‍पेशल कोर्ट चलती है। इसलिए उधर भी अतिरिक्‍त जवान लगाने पड़ते है। इन्‍हीं सबके कारण चौराहे पर जाम लग गया था। हालांकि अन्‍य दिनों यह ठीक भी हो जाता है क्‍योंकि यह ड्यूटी रोज नहीं लगती है।”

रविशंकर निम

एएसपी, ट्रैफिक

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement