Salman Khan Did Flirt With School Teacher

दि राइजिंग न्‍यूज

सभी फोटो- अभय वर्मा

लखनऊ।

 

राजधानी की सड़कों पर जब ढ़ोल बजाते, झूमते-गाते किन्‍नर का हुजूम निकला तो जिसने भी यह नजारा देखा वो वहीं का वहीं ठहर गया। उत्‍साह से भरे इन किन्‍नरों ने अपनी समानता की मांग करते हुए रविवार को गौरव यात्रा निकाली। यह पदयात्रा सिकंदरबाग चौराहे से शुरू होकर जीपीओ पार्क स्थित गांधी प्रतिमा पर सामाप्‍त हुई। इस दौरान पदयात्रा का नेतृत्‍व कर रहीं पायल सिंह ने कहा कि हम लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मांग करते हैं कि हमें भी समानता का अधिकार मिले और धारा 377 को समाप्‍त किया जाए। ताकि हम लोग गौरव के साथ अपना जीवन जी सकें।

 

 

 

 

 

आप लोगों की तरह ही हमें भी प्‍यार करने का हक है और आपके तरह ही हमें भी जीवन जीने का अधिकार मिलना चाहिए। यह किसी और के शब्‍द नहीं बल्कि किन्‍नरों और समलौंगिक लोगों की वह पीड़ा है, जिसे वह सबके सामने बयां कर रहे थे। अपने जीवन से बेहद खुश यह किन्‍नर नाचते-गाते सड़कों पर निकले तो इन्‍हें देखने के लिए भारी भीड़ भी इकठ्ठा हो गई।

 

 

बीच रास्‍ते में किन्‍नर और समलौंगिक एक-दूसरे चूमते तो वहां से निकलने वाले सड़क किनारे खड़े होकर इस रूप को निहारने लगते।

 

 

हालांकि पुलिस कर्मी इन्‍हें लगातार सुरक्षा भी दे रहे थे ताकि किसी प्रकार की कोई अप्र‍िय घटना ना हो सके। पायल फाउंडेशन की अध्‍यक्ष पायल सिंह ने इस यात्रा का नेतृत्‍व किया। उन्‍होंने बताया कि यह यात्रा हर साल आयोजित की जाती है। इसमें मुंबई, नई दिल्ली, कोलकाता, मध्‍यप्रदेश, बिहार, हरियाणा, उत्तराखंड, हिमाचल सहित कई प्रदेशों के किन्‍नर भाग लेते हैं।

 

 

 

“यह अवध गौरव यात्रा है इसमें किन्नरों के साथ समलौंगिक भी भाग लेते हैं। इस यात्रा के जरिए हम लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मांग करते हैं कि हमें भी आम लोगों की तरह जीने का अधिकार मिले। इसके लिए धारा 377 को हटाने का कानून बनाया जाए। यह कई देशों में मान्‍य है यदि हमारे यहां भी इसे मान्‍यता मिलती है तो बड़ी खुशी की बात होगी।”

पायल सिंह

अध्‍यक्ष पायल फाउंडेशन

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Public Poll