Vicky Kaushal on Pulwama Terrorist Attack befitting answer must be given to Terrorism

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

अंतर्राष्‍ट्रीय इकाना स्टेडियम का नाम “स्‍वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी” के नाम पर करने को सपा ने गलत परंपरा ठहराया है। पार्टी द्वारा कहा गया कि वाजपेयी के नाम पर स्टेडियम का नामकरण करके भाजपा सरकार ने साबित कर दिया कि दूसरे के कामों पर अपना नाम चस्पा कर देना कोई इनसे सीखे। इतिहास में इस तरह का कोई दूसरा उदाहरण नहीं मिलेगा।

पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजेन्द्र चौधरी ने मंगलवार को कहा कि सभी को पता है कि स्टेडियम का निर्माण अखिलेश यादव के मुख्यमंत्रित्वकाल में हुआ था। उन्होंने कहा कि अटल बिहारी बाजपेयी सभी के लिए श्रद्धेय हैं, सभी उनका सम्मान करते हैं। उनके प्रति श्रद्धा प्रदर्शित करनी चाहिए, पर इसके लिए भाजपा को समाजवादी सरकार का अनुसरण करते हुए जनेश्वर मिश्र पार्क व जे.पी. सेंटर जैसा भव्य निर्माण कराना था। इस नामकरण से तो भाजपा की हेठी हुई है।

भाजपा ने तो काम और नाम के अंतर को मिटाने का हास्यास्पद और असम्मानजनक काम किया है। लोकतंत्र में यह स्वस्थ परंपरा नहीं है। समाजवादी सरकार के कामों पर अपना नाम लगाकर ही भाजपा सरकार समझ रही है कि उसके झूठे दावे चल जाएंगे और जनता बहकावे में आ जाएगी। पर, ऐसा नहीं होने वाला। अखिलेश यादव ने बार-बार कहा है कि भाजपाई समाजवादी सरकार के विकासकार्यों के उद्घाटन और शिलान्यास में ही अपना समय बिता रहे हैं।

चौधरी ने कहा कि ईमानदारी की बात तो यह है कि भाजपा को अखिलेश यादव का एहसानमंद होना चाहिए जो उनके कामों से वह अपनी सरकार का नाम व काम चला रही है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement