Jhanvi Kapoor And Arjun Kapoor Will Seen in Koffee With Karan

दि राइजिंग न्यूज

लखनऊ।

 

निजीकरण के विरोध में बिजली अभियंताओं एवं कर्मचारियों ने बुधवार को राजधानी की सडकों पर रैली के माध्‍यम से विरोध प्रर्दशन किया। साथ ही बिल को पारित करने की कोशिश पर देश भर में एक दिन की हडताल की चेतावनी दे दी है। इस दौरान संसद के मौजूद सत्र में बिजली इंजीनियर एवं कर्मचारी बिल के विरोध में तीन अप्रैल को दिल्‍ली में रैली करने का एलान किया गया।

राजधानी के राणा प्रताप मार्ग स्थिति हाइडिल फील्‍ड हॉस्टल पर सुबह से ही बड़ी संख्‍या में अभियंता एवं कर्मचारी एकत्र हो गये थे। जिसके बाद दोपहर करीब 12 बजे हजारों कर्मचारी रैली निकाल कर शक्ति भवन पहुंचे। इस दौरान वहां एक विरोध सभा प्रस्‍ताव पारित कर निजीकरण के विरोध में हड़ताल की चेतावनी दी गयी।

 

विघुत कर्मचारी संयुक्‍त संघर्ष समिति के चेयरमैन शैलेन्‍द्र दुबे ने कहा कि निजीकरण होने के बाद जहां एक तरफ पावर कारपोरेशन को नुकसान का सामना करना पड़ेगा तो वहीं जरूमंदों को बिजली का लाभ भी नही मिलेगा। उन्‍होने कहा कि पावर कारपोरेशन लिमिटेड घाटा उठाकर भी लोगों को सुविधा दे रहा है। उदाहरण के तौर पर उन्‍होने मुंबई का जिक्र करते हुए कहा कि वहां की बिजली व्‍यवस्‍था निजी हाथों में है। जिसके चलते उपभोक्‍ताओं को 12 रूपये प्रति यूनिट बिजली मिलती है। वहीं उत्‍तर प्रदेश के उपभोक्‍ताओं को तीन से पांच रूपये प्रति यूनिट की दर से बिजली मिलती है। जबकि लागत 6.74 पैसे प्रति यूनिट है। उन्होंने आगे कहा कि निजीकरण के बाद प्रदेश के उपभोक्‍ताओं को 8-10 रूपये प्रति यूनिट की दर से बिजली मिलेगी। जिससे उनको काफी परेशानी का सामना करना पडेगा। उन्‍होने कहा कि निजीकरण के बाद बिजली कम्‍पनियों का ध्‍यान सिर्फ उघोगों पर रहेगा। उन्‍ही जगहों पर अधिक बिजली की आपूर्ति की जायेगी जहां बडे बडे पूंजीपतियों के उद्योग होंगे। इसके चलते आम आदमी को बिजली आपूर्ति से वंचित रहना पडेगा। विरोध सभा को राजीव सिंह गिरीश पाण्‍डेय अभियंता संघ के वरिष्‍ठ उपाध्‍यक्ष रामप्रकाश गुप्‍ता समेत अन्‍य पदाधिकारियों ने सम्‍बोधित किया।

 

लगा जाम और लोग हुए परेशान

उधर, राणाप्रताप मार्ग स्थित फील्ड हॉस्टल से निकाली गई रैली के चलते अशोक मार्ग व राणा प्रताप मार्ग पर लंबा जाम लग गया। बड़ी संख्या में विद्युत कर्मियों के रैली में शामिल होने के कारण कई बार दोपहर बाद तक ट्रैफिक जाम की स्थिति रही।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement