Akshay Kumar and Priyadarshan Donated to Save Flood Affected People in Kerala

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

राजधानी में गोमती नगर स्थित केंद्रीय विद्यालय के सामने खुली शराब की दुकान का लगातार विरोध किया जा रहा है। इसी क्रम में आज “शराबबंदी संघर्ष समिति” के कार्यकर्ताओं के साथ तमाम सामाजिक संगठन और बसपा के पूर्व मंत्री आर के गौतम अनशन पर बैठ गए। “शराबबंदी संघर्ष समिति” के कार्यकर्ताओं का कहना है कि केंद्रीय विद्यालय के ठीक सामने मॉडल शॉप बनी हुई है, जो कि नियम के विरुद्ध है। इसको बंद कराने में पुलिस कोई दिलचस्पी नहीं दिखा रही है।

 

 


 

प्रदर्शन कर रहे लोगों का कहना है कि हम लोग काफी समय से मांग करते आए हैं कि केंद्रीय विद्यालय के सामने बनी मॉडल शॉप बंद हो, लेकिन यह अभी भी संचालित हो रही है।

 

 

 

मानक के अनुरूप नहीं है शराब की दुकान

संघर्ष समिति के अध्‍यक्ष मुर्तजा अली का कहना है कि यह दुकान कॉमर्शियल नहीं है बल्कि यह रेजिडेंशियल है और इसकी स्कूल से दूरी मात्र 50 मीटर की है। इस दुकान की वजह से बच्‍चों का सामने से निकलना मुश्किल हो रहा है और उनके भविष्य पर भी बुरा असर पड़ रहा है। दुकानों पर खड़े लोग स्‍कूल जाने वाली बच्चियों को गंदी नजरों से देखते हैं और साथ अभद्र भाषा का भी प्रयोग करते हैं। इससे उनकी पढ़ाई के साथ ही उनका भविष्‍य भी प्रभावित हो रहा है।

 

 

उन्‍होंने कहा, यह दुकान मानक के अनुरूप नहीं है। इसके लिए शिकायतें भी की जा चुकी हैं, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है। उन्‍होंने कहा कि इसके खिलाफ हमने कोर्ट में पीआइएल भी डाल दी है जिस पर 14 अगस्‍त को सुनवाई होनी है।  

इसके लिए प्रशासन और सीएम योगी जिम्‍मेदार

वहीं, इस मुहिम को समर्थन देने पहुंचे बसपा के पूर्व मंत्री आर के गौतम ने कहा कि स्कूल के सामने शराब की दुकान का होना बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण बात है। इससे बच्चों पर बुरा असर पड़ रहा है। इसे बंद कराने के लिए सभी काफी दिनों से प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्‍होंने इसके लिए प्रशासन और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ को जिम्‍मेदार ठहराया।

पूर्व मंत्री ने यह भी कहा कि मुझे लगता है यह शराब की दुकान भाजपा के लोग ही चलाते हैं इसीलिए यह बंद नहीं हो रही है। अगर इसके खिलाफ जल्‍द ही कार्रवाई न की गई तो हम यह मुद्दा प्रधानमंत्री मोदी के सामने जंतर-मंतर पर उठाएंगे।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Public Poll