Anushka Sharma Banarsi Saree Look Goes Viral on Social Media

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

अंतरराष्‍ट्रीय महिला दिवस के दिन बहुजन मुस्लिम महासभा ने तीन वर्षीय बच्‍ची के साथ हुए दुष्‍कर्म के मामले में विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान रुमी गेट के सामने एकत्रित हुए सैकड़ों की संख्‍या में प्रदर्शनकारियों ने नारेबाजी की और सरकारी रवैए पर नाराजगी दिखाते हुए पीडि़ता के समर्थन में आवाज बुलंद की। उल्‍लेखनीय है कि बीते दिनों ठाकुरगंज थाना क्षेत्र में तीन वर्षीय मासूम के साथ उसके ही चाचा ने दुष्‍कर्म की घटना को अंजाम दिया था। बाद में स्‍थानीय लोगों ने पिटाई करते हुए पुलिस को सौंप दिया था।

महासभा के प्रदेश अध्‍यक्ष अहमद महबूब शेख ने मेडिकल कॉलेज प्रशासन और डॉक्टर्स पर आरोप लगाया कि वह पीडि़ता को किसी से मिलने नहीं दे रहे हैं। किस तरह का क्‍या उपचार किया जा रहा है उसकी भी जानकारी नहीं दे पा रहे। उन्‍होंने बताया कि बच्‍ची की मां ने डॉक्टर्स पर धमकाने का भी आरोप लगाया है। राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता शेख ताहिर सिद्दीकी ने म‍हिलाओं की सुरक्षा पर सरकार से सवाल उठाते हुए प्रश्‍न किया कि जब राजधानी में ही मासूम और महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं तो अन्‍य जनपदों का क्‍या होगा।

महिला प्रकोष्‍ठ उपाध्‍यक्ष गुलनाज बानों ने मुख्‍यमंत्री राहत कोष और निर्भया कोष से आर्थिक-शैक्षिक सहायता दिए जाने की मांग की। मौके पर एसीएम संतोष सिंह और चौक थाने का पुलिस बल मौजूद रहा। मुख्‍यमंत्री को सौंपे गए ज्ञापन में महासभा के नेताओं ने अपील की यदि उनकी मांगों पर विचार नहीं किया गया तो इसी तरह प्रदर्शन होते रहेंगे। इस दौरान महिला कल्‍याण एवं बाल विकास संघ की चेयरमैन सुनयना वर्मा, ममता सिंह, मुस्लिम महासभा से दुर्गावती, मोनिका तिवारी, मोना मिश्रा, अल्फिया इब्राहिम सहित भारी संख्‍या में लोग मौजूद रहे।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement