Home Lucknow News Pollution And Dust In Lucknow City

योगी: राम मंदिर पर अपना रुख साफ करें राहुल गांधी

पीएम मोदी की नकल करते हैं राहुल गांधी: मुख्तार अब्बास

जम्मू के डोडा जिले में ताजा बर्फबारी, उत्तराखंड केदारनाथ धाम में भी 2 इंच बर्फबारी

श्र‍ीनगर पुलिस ने 3 संदिग्ध को किया गिरफ्तार, 13,63,500 पुराने नोट बरामद

चेन्नई में घने कोहरे के चलते दो विमानों को बंगलुरु डायवर्ट किया गया

प्रदूषण रोकने की नोटिस जारी लेकिन विभाग उदासीन

Lucknow | 06-Dec-2017 17:35:37 | Posted by - Admin

 

  • नोटिस के बावजूद परिवहन विभाग जागा, न नगर निगम की नींद टूटी
   
Pollution and dust in Lucknow City

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

खतरनाक स्तर पर पहुंचे प्रदूषण के बावजूद राजधानी में प्रदूषण रोकने के जिम्मेदार विभाग के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही है। नगर निगम प्रदूषण रोकने के नाम पर वीआइपी परिक्रमा कर रहा है तो परिवहन केवल वसूली में व्यस्त है। नतीजा यह है राजधानी में हर तरफ धूल व धुएं का गुबार दिख रहा है। दरअसल पिछले दिनों प्रदूषण रोकने के लिए करीब आधा दर्जन से अधिक विभागों को प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की तरफ से दिशा निर्देश जारी किए गए थे।मगर हुआ कुछ भी नहीं। राजधानी की आबोहवा दिन प्रतिदिन खराब होती जा रही है। मुख्‍य पर्यावरण अधिकारी डॉ अखलाख ने बताया कि प्रदूषण से संबंधित नगर निगम, एलडीए, आरटीओ, ट्रैपिफक सहित कई और विभागों को डायरेक्‍शन दिए गए हैं, इन्‍हें वायु अधिनियम 1981 के अंतर्गत प्रदूषण रोकने के लिए कार्रवाई करना होगा। इसके साथ ही उन्‍होंने कहा कि जिन विभागों को नोटिस जारी किया गया है, उन्‍हें जल्‍द ही रिपोर्ट देने के लिए कहा गया है। हालांकि अभी तक किसी विभाग की ओर से नियंत्रण बोर्ड को समुचित रिपोर्ट नहीं दी गई है। इसके लिए विभागों को दोबारा से नोटिस जारी किया जाएगा।

अनियोजित विकास बन रहा है कारण

 

डॉ अखलाख ने बताया कि हम लोगों की तरफ से विभागों को डायरेक्‍शन दिए जाने के साथ ही जल, वायु अधिनियमों के तहत कार्रवाई की जा रही है, बावजूद इसके प्रदूषण को रोका नहीं जा सकता है। इसके लिए सबसे ज्‍यादा जिम्‍मेदारी शहरीकरण की है, लोग शहरों में आकर बस रहे हैं। अनियोजित तरीके से  नए निर्माण हो रहा है। गाडि़यों की संख्‍या में बहुत तेजी बढ़ रही है और हरियाली तेजी से कम होती जा रही है। दिन भर हर इलाके में डीजल के वाहन चल रहे हैं। इससे वायुप्रदूषण खतरनाक स्तर के ऊपर पहुंच रहा है लेकिन इसे देखने वाला कोई नहीं है।

राजधानी में आबोहवा (एक्यूआई)

 

 तारीख                       एक्यूआई              गुणवत्ता

  • 5 दिसंबर                350        वेरी पुअर
  • 4 दिसंबर                350         सीवियर
  • 3 दिसंबर                385        वेरी पुअर
  • 2 दिसंबर                360         वेरी पुअर
  • 1 दिसंबर                418        सीवियर

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news




sex education news