Ali Fazal to be a Part of Bharat

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

समय-समय पर राजधानी पुलिस की कार्यप्रणाली सामने आती रही है एक ऐसा ही मामाला सामने आया है जब पुलिस अधिकारियों ने अपने ही कांस्‍टेबल की बात को झूठी करार दे दिया। इतना ही नहीं पूरे मामले को रफा-दफा करने के लिए एड़ी चोटी का जोर भी लगा दिया। ताजा मामला विकास नगर थाना क्षेत्र का है। सोमवार की रात को चीता मोबाइल कांस्‍टेबल जौनवीर गुर्जर को कुछ लोगों ने जमकर पीटा और उसकी वर्दी भी फाड़ दी। घटना के बाद कांस्‍टेबल ने आरोपी को हिरासत लेकर थाने को सुपुर्द करते हुए तहरीर भी दी, लेकिन मामला ही दर्ज नहीं हो सका। अब सवाल यह है मुस्‍तैद पुलिस जब अपनी ही सुरक्षा नहीं कर पा रही है तो आम आदमी की सुरक्षा भगवान भरोसे ही है।

 

थाना क्षेत्र के सब्‍जी मंडी चौकी के पास सोमवार की रात कई लोग एक युवक को पीट रहे थे। तभी वहां चीता मोबाइल से कांस्‍टेबल विमलेश कुमार और जौनवीर गुर्जर गश्‍त कर रहे थे। जैसे ही उन्‍होंने यह घटना देखी तो भीड़ से युवक को बचाने का प्रयास किया। बीच बचाव करने से नाराज कुछ लोगों ने कांस्‍टेबल जौनवीर गुर्जर पर ही हमला कर दिया और उसे पीटने लगे। देखते ही देखते हमलावरों ने उसकी वर्दी फाड़ दी और पीटते-पीटते अस्‍त-व्‍यस्‍त कर दिया। किसी तरह जान बचाकर भागे कांस्‍टेबल ने अपने साथी विमलेश कुमार की सहायता से नंद किशोर यादव ने अंकुर को हिरासत में ले लिया।

 

 

जैसे-तैसे आरोपी को थाने लेकर पहुंचे और मामले पर तहरीर भी दी, लेकिन सुबह होते-होते थाना प्रभारी सचिन गुप्‍ता ने ऐसी किसी भी घटना से इनकार कर दिया। यही नहीं क्षेत्राधिकारी अनुराग सिंह और एसपी ट्रांस गोमती हरेंद्र कुमार ने भी तहरीर दिए जाने से इनकार किया है। हालांकि सोशल मीडिया में पीटे गए कांस्‍टेबल का वीडियो वायरल हो गया और अधिकारियों ने चुप्‍पी साध ली है।

 

“कांस्‍टेबल को पीटे जाने का कोई मामला नहीं है। कुछ लोगों का विवाद था इसी के निपटारे के लिए पुलिस मौके पर गई थी। एक की गिरफ्तारी हुई है ज्‍यादा कुछ नहीं बता पाऊंगा।”

सचिन गुप्‍ता

थाना प्रभारी, विकास नगर

 “विकासनगर में कांस्‍टेबल के साथ कोई घटना नहीं हुई है। हालांकि मौके पर दो पक्षों का विवाद था जिसमें एक पक्ष ने तहरीर दी है उसी के आधार पर कार्रवाई की जा रही है।”

अनुराग सिंह

क्षेत्राधिकारी महानगर

 

“मैंने खुद कांस्‍टेबल से बात की है जिसमें उसने अपने साथ ऐसी घटना होने की बात से इनकार किया है। कांस्‍टेबल मौके पर गया था लेकिन उससे कोई अभद्रता नहीं हुई है और ना ही उसने कोई तहरीर दी है।”

हरेंद्र कुमार

एसपीटीजी

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll