Rani Mukerji to Hoist the National flag at Melbourne Film Festival

दि राइजिंग न्यूज

संजय शुक्ल

लखनऊ।

 

गोमतीनगर नगर विपुल खंड में एक निर्माणाधीन मकान की दूसरी मंजिल पर सो रहे एक मजदूर की शुक्रवार तड़के निर्मम हत्या कर दी गई। घटना के वक्त मकान में आठ दस मजदूर सोए हुए थे। साथी पर हमला होते देख एक अन्य मजदूर ने साथी को बचाने का प्रयास किया तो फावड़े के हमले में वह भी घायल हो गया। वारदात के समय मकान में एक विक्षिप्त भी मौजूद था और उसे उतारने में पुलिस को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी।

हालांकि आसपास के लोगों का कहना है कि निर्माणाधीन मकान के पीछे की तरफ भी आने जाने का रास्ता है और हत्यारा उधर से भी आया हो सकता है। फिलहाल पुलिस दोनों ही बिन्दुओं की पड़ताल कर रही है। पुलिस ने मौके से पकड़े गए निवस्त्र विक्षिप्त को गिरफ्तार तक मामले की पड़ताल शुरू कर दी है।

 

 

विपुल खंड स्थित प्लाट संख्या 6/20 पर मकान का निर्माण चल रहा है। मकान पूर्व मुख्यमंत्री के जानने का वाला बताया जाता है। आसपास के लोगों के मुताबिक शुक्रवार तड़के करीब साढ़े तीन-चार बजे एक विक्षिप्त जोर-जोर से सीटी बजाकर लोगों को आवाज लगा रहा था। नजदीक ही झोपड़पट्टी में रहने वाले इस विक्षिप्त की आवाज पर लोग बाहर निकल आए। हालांकि लोगों के बाहर आने के बाद वह निर्माणाधीन मकान में घुस गया। कुछ देर बाद ही निर्माणाधीन मकान की दूसरी मंजिल पर सो रहे मजदूर शोर मचाते भागने लगे। आसपास के लोगों के मुताबिक किसी ने फावड़े से ऊपर सो रहे मजदूर अजय कुमार पर हमला कर दिया। फावड़े के ताबड़तोड़ वार से अजय की मौत हो गई। जबकि अजय को बचाने के प्रयास में उसका साथी राजू घायल हो गया।

 

 

 

भयाक्रांत राजू भी अपने साथियों के साथ नीचे की ओर भाग आया, जबकि मानसिक विक्षिप्त वहीं पर रहा। मजदूरों ने सुबह करीब सवा चार बजे इसकी सूचना गोमतीनगर पुलिस को दी। घटना के करीब दो घंटे बाद पुलिस मौके पर पहुंची। उस वक्त भी विक्षिप्त मकान की दूसरी मंजिल पर ही था। पुलिस ने उसे पकड़ने का प्रयास किया तो वह बगल में स्थित मकान की छत पर चला गया। बाद में पुलिस ने दूसरे मकान के बगल में स्थित सत्संग भवन की छत से पहुंच कर विक्षिप्त को पकड़ा। उस वक्त विक्षिप्त निवस्त्र था और पड़ोस के मकान की छत पर खून के काफी निशान थे।

 

 

 

पुलिस के मुताबिक घायल राजू को उपचार के लिए ट्रामा सेंटर भेजा गया है। उधर इस घटना के बाद पूरे क्षेत्र में लोगों में भय व्याप्त है। पुलिस घटना के लिए विक्षिप्त को ही आरोपी मान रही है, लेकिन आसपास के लोगों का कहना है कि विक्षिप्त काफी समय से वहां पर घूमता है। पास ही झोपड़ी में रहता है। मकान के पीछे के हिस्से से भी आसानी से आया जाया जा सकता है। गोमती नगर पुलिस के मुताबिक वारदात में प्रयुक्त फावड़ा मौके पर ही मिल गया है और उस पर फिंगरप्रिंट आदि की जांच कराई जा रही है। उसकी रिपोर्ट आते ही घटना का साफ हो जाएगी।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll