Home Lucknow News Mukhtar Ansari Brother Raises Question Over Government Intention

बीजिंग: सुषमा स्वराज ने किर्गिजस्तान के विदेश मंत्री से मुलाकात की

अमरेली: SP जगदीश पटेल को CID क्राइम ने पूछताछ के लिए हिरासत में लिया

VHP अध्यक्ष कोकजे बोले- राम मंदिर पर हमारे पक्ष में आएगा फैसला

वेंकैया नायडू ने CJI के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव के नोटिस को खारिज किया

आज महाभियोग प्रस्ताव खारिज होने को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी कांग्रेस

मुख्तार अंसारी को जेल शिफ्ट किए जाने पर उठे सवाल

Lucknow | Last Updated : Jan 12, 2018 03:39 PM IST

 

  • बाहुबली विधायक के भाई ने सरकार पर उठाए सवाल
   
Mukhtar Ansari Brother Raises Question Over Government Intention

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को गुरुवार को दोपहर संजय गांधी पीजीआइ से डिस्चार्ज कर बांदा जेल भेजे पर तमाम सवाल उठाए हैं। मुख्‍तार अंसारी के भाई अफजाल अंसारी ने शुक्रवार को पत्रकारवार्ता में बताया कि उनके भाई मुख्तार को जेल में हार्ट अटैक हुआ था। उनके मुंह से झाग निकलते देख उनकी पत्नी भी बेहोश हो गईं थीं। उन्हें बांदा में अस्पताल में दिखाय गया। बाद में बांदा के डीएम ने कहा कि उनके भाई को डॉक्टरों की टीम के साथ बांदा से पीजीआइ रवाना किया गया है। मुख्‍तार की एंजियोग्राफी के बाद कहा गया कि उनकी नसों में ब्लॉकेज है, ऑपरेशन किया जाएगा।

अफजाल अंसारी ने कहा कि मुख्यमंत्री के पास फोन कर उनसे आग्रह किया गया था कि सदन का सदस्य होने तथा मुख्‍तार अंसारी के जीवन संकट को देखते हुए उन्‍हें पीजीआइ भेजा जाए। मुख्यमंत्री के बाद किसका फोन आया कि पूरा घटनाक्रम बदल गया, जो 72 घण्टे में जाने को कह रहे थे वो तुरंत भेजने की बात कहते हुए तैयार हो गए। उन्‍होंने बताया कि  डिस्चार्ज की फाइल पर लिखा गया था कि यात्रा न किया जाए, फिर भी उनके भाई को जबरन भेज गया, जो गलत है। उन्‍हें अस्पताल के बजाय जेल क्यों भेजा गया?  उन्होंने पुलिस प्रशासन के दबाव में होने भी आशंका जाहिर की है। इसी कारण मुख्तार को अस्‍पताल में न रखकर जेल भेजा गया। अस्पताल में भी मुख्तार को पार्टी के विधायक-एमएलसी से मिलने दिया गया न मुझसे। प्रेस कांफ्रेंस में अफजाल के साथ मुख्तार के छोटे बेटे उमर अंसारी भी मौजूद थे। यहां काबिले जिक्र है कि प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद ही बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी ने जेल में असुरक्षा को लेकर आशंका जताई थी।

उल्लेखनीय है कि बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को गुरुवार को दोपहर संजय गांधी पीजीआइ से डिस्चार्ज कर दिया गया। सुबह से ही यहां बड़ी संख्या में पुलिस और पीएसी मौजूद थी। बांदा पुलिस के अधिकारी व जवान भी गाड़ियों के साथ मौजूद थे। स्वास्थ्य कुछ गड़बड़ बताने के कारण मुख्तार को जेल की गाड़ी के बजाय एंबुलेंस से बांदा ले जाया गया। इससे पहले न्यू ओपीडी में उनकी आंखों की जांच की गई थी।

 


"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555




Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


Most read news


Loading...

Loading...