Home Lucknow News Madhyanchal Corporation Failed To Set Meter In Consumers House

शिमला: गैंगरेप के आरोपी कर्नल को 3 दिनों की पुलिस रिमांड पर भेजा गया

तिब्बत चीन से आजादी नहीं, विकास चाहता है: दलाई लामा

केरल लव जिहाद केस: NIA ने सुप्रीम कोर्ट को सौंपी स्टेटस रिपोर्ट

26.53 अंकों की बढ़त के साथ 33,588.08 पर बंद हुआ सेंसेक्स

J-K: राष्ट्रगान के दौरान खड़े न होने पर दो छात्रों के खिलाफ FIR दर्ज

उपभोक्‍ताओं के घर मीटर लगाने में मध्‍यांचल निगम फेल

Lucknow | 12-Nov-2017 12:55:12 | Posted by - Admin
  • जो काम तीन साल में नहीं कर सके कैसे करेंगे सात महीने में
   
Madhyanchal Corporation Failed to Set Meter in Consumers House

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

मध्‍यांचल निगम उपभोक्‍ताओं के घर मीटर लगाने में पूरी तरह से फेल हो गया है। शहरी से लेकर ग्रामीण उपभोक्‍ताओं के यहां मीटर लग जाए, नियामक आयोग को आदेश दिए हुए तीन वर्ष से ज्‍यादा समय हो गये हैं, लेकिन मध्‍यांचल निगम में 45 लाख उपभोक्‍ताओं में से 35 लाख उपभोक्‍ताओं के यहां मीटर लग सके हैं।, लेकिन अभी भी दस लाख उपभोक्‍ताओं के यहां मीटर लगाया जाना बाकी है। जो कि मध्‍यांचल निगम की विफलता को पूरी तरह से दर्शाता है।

 

 

निगम की ओर से बताया जा रहा है कि जून 2018 तक मीटरों को प्रत्‍येक उपभोक्‍ता के घरों में लगाए जाने वाले काम को पूरा कर लिया जाएगा। ऐसे में सवाल उठ रहा है कि जिस काम को निगम तीन वर्षों में नहीं कर सका, उसे सात महीने से कैसे कर देगा, जो कि निगम की कार्य प्रणाली पर सवालिया निशान खड़ा कर रहे हैं।

 

 

दस लाख उपभाक्‍ताओं के यहां मीटर नहीं

यह सच्‍चाई है, मध्‍यांचल के अंतर्गत आने वाले 21 जिलों के 45 लाख उपभोक्‍ताओं में से 10 लाख उपभोक्‍ताओं के यहां मीटर ही नहीं लगे हैं। इससे मध्‍यांचल निगम को हर महीने करोड़ों रुपये की चोट लग रही है। मध्‍यांचल निगम की ओर से बताया जा रहा है कि शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में मीटर को तेजी से लगाने का काम शुरू कर दिया गया है।

 

एमडी के पीआरओ संजीव मोहन गर्ग ने बताया कि छह लाख मीटर डेढ़-डेढ़ लाख की खेप में मंगा लिए गए हैं। जिलों में मीटरों का वितरण कर दिया गया है। इसके साथ ही अभियंताओं को आदेशित कर दिया गया है कि जल्‍द से जल्‍द उपभोक्‍ताओं के यहां मीटरों को लगाया जाए। मीटर न लगाये जाने से उपभोक्‍ता जमकर बिजली का दोहन कर रहे हैं। इससे मध्‍यांचल निगम को हर महीने करोड़ों रुपये की चोट लग रही है।

 

 

जून 2018 तक सभी उपभोक्‍ताओं के यहां लगाना है मीटर

एमडी पीआरओ ने बताया कि मध्‍यांचल निगम का लक्ष्‍य जून 2018 तक सभी उपभोक्‍ताओं के यहां मीटर लगाना है। उन्‍होंने बताया कि गांवों और मजरों को चिन्हित कर लिया गया है जहां पर मीटर को लगाया जाना है। हम उम्‍मीद करते हैं कि जून 2018 तक सभी लोगों के यहां मीटरों को लगा दिया जाएगा। हालांकि मध्‍यांचल की ओर से मीटर को जिस गति से लगाने का काम चल रहा है। उससे नहीं लग रहा है जून 2018 तक मीटर को लगाया जा सकेगा।

 

 

पहले शहरी क्षेत्रों में लगाए फिर करें गांव की बात

बताया जा रहा है कि मध्‍यांचल के 21 जिलों के 15 शहरी क्षेत्रों में पांच लाख से ज्‍यादा मीटर को लगाया जाना है। विशेषज्ञों के मुताबिक जून 2018 तक मध्‍यांचल का 21 जिलों में मीटरों के लगाये जाने का जो सपना है वह अधूरा ही रह जाएगा, क्‍योंकि अभी शहरी क्षेत्रों में ही मीटरों को लगाया नहीं जा सका गया है। ऐसे में ग्रामीण क्षेत्रों में अभी कहा जा सकेंगे।

 

 

लखनऊ भी नहीं है अछूता

अनमीटर्ड उपभोक्‍ता के मामले में लखनऊ भी अछूता नहीं है। शहर के पुराने लखनऊ चौक, अमीनाबाद, ठाकुरगंज, चौपटिया, हुसैनगंज, पान दरीबा सेस सहित कई और क्षेत्र हैं जहां मीटर नहीं लगाया जा सका है। बताया जा रहा कि लखनऊ में भी कुछ दस हजार से ज्‍यादा अनमीटर्ड उपभोक्‍ता हैं।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555



संबंधित खबरें



HTML Comment Box is loading comments...

Content is loading...




गैजेट्स

TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll


What-Should-our-Attitude-be-Towards-China


Photo Gallery
गोमती तट पर दीप आरती करती महिलाएं। फोटो- अभय वर्मा



Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news


sex education news