Disha Patani Speaks on Salman Khan for Bharat

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

क‍थित मशहूर सेक्‍सोलॉजिस्‍ट एसके और एके जैन दूसरे दिन भी अपनी डिग्री और रजिस्‍ट्रेशन नहीं दिखा पाए। मामले पर उप मुख्‍य चिकित्‍साधिकारी एसके रावत ने दोनों ही क्‍लीनिकों और डॉक्‍टरों की रिपोर्ट मुख्‍य चिकित्‍साधिकारी को भेज दिया है। उन्‍होंने बताया कि नोटिस की अवहेलना करने पर एके-एसके जैन की क्‍लीनिक को सीलिंग करने के साथ ही एफआइआर तक दर्ज कराई जा सकती है। अधिकारियों से आदेश मिलते ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। 

बर्लिंगटन में एसके जैन और चारबाग में एके जैन दोनों ही अपने को विख्‍यात सेक्‍स का डॉक्‍टर बताते हैं। इसी के नाम पर वह मरीजों के साथ छल करते हैं और मोटी रकम वसूल रहे हैं। मुख्‍यमंत्री के जन सुनवाई पोर्टल पर जब लोगों ने एसके जैन की शिकायत की तो स्‍वास्‍थ्‍य से लेकर तमाम एजेंसिया सक्रिय हो गईं।

बीते सोमवार को मामले की पड़ताल के लिए उप मुख्‍य चिकित्‍साधिकारी एसके रावत सेक्‍सोलॉजिस्‍ट एसके जैन के कार्यालय पहुंचे तो उन्‍हें भारी विरोध का सामना करना पड़ा। जब पुलिस को बुलाने की नौबत आई तब जाकर जैन क्‍लीनिक के कर्मचारी ठंडे पड़े।

जांच के दौरान पता चला कि उनके पास ना तो डिग्री है और ना ही क्‍लीनिक चलाने का रजिस्‍ट्रेशन है। इसके बाद भी वह दिनभर में सैकड़ों मरीजों को देखते हैं। इसी तरह चारबाग में स्थित सेक्‍सोलॉजिस्‍ट एके जैन के यहां भी छापेमारी के दौरान भारी अनियमितता मिली थी। उप मुख्‍य चिकित्‍साधिकारी के किसी भी सवाल का जवाब ना दे पाने पर दोनों ही क्‍लीनिकों को बंद कराने के साथ ही संचालकों को सभी दस्‍तावेजों के साथ तलब किया गया था।

पहले हुई जांच में रिपोर्ट का इंतजार-

बर्लिंगटन चौराहा स्थित एसके जैन सेक्‍स क्‍लीनिक पर एफएसडीए के सहायक आयुक्‍त राम शंकर ने छापेमारी करते हुए भारी गड़बड़ियां पकड़ी थीं। रोगियों को दी जाने वाली दवाओं में ना तो लेबलिंग की गई थी और ना ही दवाओं की डिटेल लिखी गई थी। इस मामले पर एफएसडीए की टीम ने दवाओं के कई सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा था। हालांकि अभी तक रिपोर्ट तो नहीं आई है, लेकिन अधिकारियों ने रिपोर्ट आते ही कार्रवाई की बात कही है। 

“एसके जैन के डिग्री की जांच के लिए भेजा गया है। साथ ही दवाएं भी जांच की प्रक्रिया में है। दोनों ही रिपोर्ट आने में 60 दिन का समय लगता है। इतना ही नहीं डॉ. एसके जैन ने दवाओं संबंधी कोई जानकारी भी नहीं दी है। अब वह कोई दस्‍तावेज दें या ना दें जैसे ही डिग्री-दवाओं की रिपोर्ट आती है उसी के अनुरूप कार्रवाई होगी।”

राम शंकर

सहायक आयुक्‍त एफएसडीए

“दोनों ही सेक्‍सोलॉजिस्‍ट एसके जैन और एके जैन से डिग्री-रजिस्‍ट्रेशन मांगी गई थी। इसके लिए मंगलवार तक का समय भी दिया गया था, लेकिन तय समय तक इन सेक्‍सोलॉजिस्‍टों ने नोटिस का जवाब नहीं दिया और ना ही कोई दस्‍तावेज सौंपे। अब पूरे मामले की रिपोर्ट उच्‍च अधिकारियों को भेज दी गई है। आदेश मिलते ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। इसमें क्‍लीनिक को सील करने से लेकर एफआइआर जैसे सभी विकल्‍प शामिल हैं।”

डॉ. एसके रावत

उप मुख्‍य चिकित्‍साधिकारी

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement