Home Lucknow News Kissagoi Of Nawab Wajid Ali Shah In Lucknow

लोया केस में SC के फैसले से अमित शाह के खिलाफ साजिश बेनकाब- योगी

POCSO एक्ट में संशोधन पर बोलीं रेणुका चौधरी- देर आए दुरुस्त आए

शत्रुघ्न सिन्हा बोले- त्याग और बलिदान की प्रतिमूर्ति हैं यशवंत सिन्हा

केंद्र सरकार अली बाबा चालीस चोर की सरकार है: शत्रुघ्न सिन्हा

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए AIADMK ने उतारे तीन प्रत्याशी

नवाब वाजिद अली शाह के शासनकाल की कहानी...

Lucknow | Last Updated : Jun 20, 2017 11:55 AM IST

   
kissagoi of nawab wajid ali shah in lucknow

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

महज एक बादशाह ही नहीं नवाब वाजिद अली शाह अवध की ऐतिहासिक विरासत हैं, अवध की तहजीब और अदब के हस्‍ताक्षर हैं। रविवार की शाम अवध की नवाबी तहजीब का प्रस्‍तुतिकरण हुआ।




रविवार को कैसरबाग स्थित राय उमानाथ बली प्रेक्षागृह में नवाब वाजिद अली शाह के जीवन पर किस्‍सागोई में नवाब के शासनकाल के आरंभ से पतन तक को दर्शाया गया।




नाटक की शुरुआत में वाजिद शाह ने जन्‍माष्‍टमी मनाई। उधर रेजिडेंट जनरल ऊटूम अवध को हड़पने की रणनीति बनाता है। माहौल कुछ ऐसा बनता है कि नवाब को तख्‍त से दस्‍तरबदार कर दिया जाता है।




दृश्‍य से दृश्‍य की कहानी किस्‍सागोई के माध्‍यम से दर्शाई गई।

नवाब वाजिद अली शाह अपनी मां मलिका ए आलिया बेगम किश्‍वर और वलीअहद हामिद अली के साथ कानपुर बनारस होते हुए लंदन के लिए रवाना होते हैं, उन्‍हें क्‍वीन विक्‍टोरिया के दरबार में ईस्‍ट इंडिया कंपनी को ज्‍यादतियों के खिलाफ अपील करनी थी लेकिन मैकलाएड स्‍टीमर से कलकत्‍ते पहुंचे, नवाब अस्‍वस्‍थ हो जाते हैं और महाराजा वर्धमान से मटिया बुर्ज इलाके में किराए पर कोठी लेकर रहने लगते हैं जबकि मलिका और हामिद अली अपने खैर ख्‍वाहों के साथ लंदन रवाना होते हैं।

प्रस्‍तुति में नवाब वाजिद अली शाह की मशहूर रचनाएं जैसे बाबुल मोरा नैहर छूटो ही जाए, दरो दीवार पर हसरत से नजर करते हैं, और कृष्‍ण भजन को शामिल किया गया है। 




यह भी पढ़ें

सवालों पर भड़के लालू, दे डाली गाली 

सलमान का जंग पर बड़ा बयान, पढ़िए क्‍या कहा

"नौकरी नहीं, दोषियों पर कार्रवाई चाहिए"

..तो मोदी के सामने झुक गए केजरीवाल!

झारखंड में अब एक रुपये में होगी रजिस्‍ट्री

राहुल को इतनी जल्‍दी नानी याद आ गईं

सुनिए नवाज़ शरीफ का जवाब..... 

ट्रम्प हुए 71 साल के,पद संभालते ही बन गए थे 

कहीं ये पाक सेना प्रमुख के आदेश तो नहीं...!


"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555




Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


Most read news


Loading...

Loading...