Actress Parineeti Chopra is also Going to Marry with Her Rumoured Boy Friend

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

राजधानी में वायु और जल प्रदूषण फैला रही एक प्रिंटिंग मशीन को जिला प्रशासन ने सील कर दिया। मौके पर मौजूद सिटी मजिस्‍ट्रेट विवेक श्रीवास्‍तव, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारी और पुलिस बल मौजूद रहा। प्रशासनिक अधिकारी ने बताया कि प्र‍िंटिंग मशीन से प्रिटिंग डाई निकती थी जिससे वायु और जल पदूषण होता था। इसके साथ ही सीता ऑफसेट के संचालक ने प्रदूषण बोर्ड से एनओसी भी नहीं ली थी। आरोपी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की गई है। ध्‍वनि प्रदूषण के मामले पर होमवर्क किया जा रहा है। जल्‍द ही बड़ी कार्रवाई देखने को मिलेगी।

प्रदूषण के मामले में हाईकोर्ट की फटकार के बाद अधिकारी मैदान में उतर कर हकीकत खोजने निकले। ताजा मामला हुसैनगंज थाना क्षेत्र के 75 पुराना किला कैंट रोड स्थित सीता ऑफसेट का है। यहां पर सीता ऑफसेट से लगातार वायु प्रदूषण और जल प्रदूषण हो रहा था। क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारियों को यहां के बारे में शिकायत भी मिली थी। जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ मौका मुआयना करने पहुंचे बोर्ड के अधिकारियों को भारी अनियमितता मिली।

यहां पर ना तो नियंत्रण बोर्ड की एनओसी थी और ना ही बचाव के कोई साधन थे। प्रिंटिंग मशीन से निकलने वाली ध्‍वनि, इंक और अन्‍य कचरे के कारण आम लोगों को भारी दिक्‍कतों का सामना करना पड़ रहा था। रिहायशी क्षेत्र में होने के कारण यह मानकों पर कहीं से भी खरा नहीं उतर रही थी। इसलिए प्रशासनिक अधिकारियों ने इसे सील करते हुए मुकदमा दर्ज कराया है।

“वायु प्रदूषण और जल प्रदूषण के मानकों के उल्‍लघंन पर प्रिंटिंग मशीन को सील किया गया है। संचालक के खिलाफ विधिक कार्रवाई हुई है। ध्‍वनि प्रदूषण के मामले में बैठक की जा रही है, जल्‍द ही कार्रवाई होगी।”

विवेक श्रीवास्‍तव

सिटी मजिस्‍ट्रेट

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement