Neha Kakkar Reveald Her Emotional Connection with Indian Idol

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

विभूतिखंड थाना क्षेत्र के रंजीत होटल में शुक्रवार की रात आग तापते चार मजदूरों की संदिग्‍ध मौत से हड़कंप मच गया। सुबह सात बजे के आसपास जब सफाई कर्मी साफ-सफाई के लिए पहुंचे तब घटना की जानकारी हुई। कर्मचारियों ने होटल प्रशासन को मामले की जानकारी दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्‍टमॉर्टम के लिए भेज दिया। अधिकारियों ने दम घुटने से मजदूरों के मौत की आशंका जताई है।

 

 

 

रंजीत होटल में काम करने वाले मजदूर राम कुमार, शहिद, मोहम्‍मद नेहाल और राम नरेश होटल के बेसमेंट में पहले भोजन बनाया और खा-पीकर पास में बने स्‍टोर रूम में सोने के लिए चले गए। यहां पर ठंड से बचने के लिए कोयले से आग जलाई और कमरा बंद कर सो गए। इसके बाद सुबह चारों मजदूरों के शव मिले। मौके पर पहुंचे विभूतिखंड प्रभारी सत्‍येंद्र राय, एसपी उत्‍तरी अनुराग वत्‍स और सीएफओ अभय भान पाण्‍डेय ने घटना स्‍थल का निरीक्षण किया। इस दौरान एसपी उत्‍तरी ने बताया कि आग से निकलने वाले धुंए के कारण मजदूरों की मौत हुई होगी। हालांकि पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मामला स्‍पष्‍ट हो जाएगा।

 

 

 

 

आशंकाओं के बीच हत्‍या का मुकदमा-

चार मजदूरों की मौत को लेकर एसपी उत्‍तरी अनुराग वत्‍स और सीएफओ अभय भान पाण्‍डेय जहां एक ओर दम घुटने का कारण बता रहे थे तो वहीं देर शाम विभूतिखंड थाने में होटल के प्रबंधक और मालिक के खिलाफ हत्‍या का मुकदमा भी दर्ज हो गया।

 

“कमरा चारों ओर से बंद था और कमरे में आग जलाने के कारण कार्बन मोनो निकलने के कारण वहां पर ऑक्‍सीजन की कमी हो गई होगी। नींद में होने के कारण चारों लोग इसे समझ नहीं पाए। संभावना है कि इसी कारण इन लोगों का दम घुटने लगा होगा और सभी ने दम तोड़ दिया। हालांकि मौत का सटीक कारण तो पोस्‍टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल पाएगा।”

एबी पाण्‍डेय

सीएफओ

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll