Rani Mukerji to Hoist the National flag at Melbourne Film Festival

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

सूबे के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के कार्यालय में मंगलवार को आग लगने से हड़कंप मच गया। हालांकि एनेक्‍सी के दमकल कर्मियों ने मशक्‍कत के बाद आग पर काबू पाया। आग से कमरे में रखे फर्नीचर और अन्‍य सामान जलकर राख हो गए हैं। सीएफओ एबी पांडेय ने बताया कि कंट्रोल रूम में जानकारी नहीं दी गई थी। संभव है कि आग सामान्‍य रही हो और मौके पर ही काबू पा लिया गया हो। हालांकि मामला मुख्‍यमंत्री कार्यालय से जुड़ा होने के कारण कोई भी अधिकारी बताने के लिए तैयार नहीं हुआ। इतना ही नहीं मुख्‍य द्वार पर तैनात सुरक्षा कर्मी भी मौन साधे रहे।

 

 

हजरतगंज थाना क्षेत्र में स्थित मुख्‍यमंत्री कार्यालय (लाल बहादुर शास्‍त्री भवन) के पांचवें तल में धुआं उठते देख कर्मचारियों ने मौके पर मौजूद सुरक्षाकर्मियों को सूचना दी। इसके बाद सचिवालय की सुरक्षा में तैनात दमकल कर्मियों को बुलाया गया। मौके पर पहुंचे दमकल कर्मियों ने कड़ी मशक्‍कत के बाद आग पर काबू पाया। आग से वहां पर रखा फर्नीचर, तार आदि जल कर राख हो गए। बताया जा रहा है कि जिस कमरे में आग लगी उसमें कंप्‍यूटर सर्वर था। आग लगने के कारण स्‍पष्‍ट ना हो पाए थे। हालांकि प्रारंभिक रूप में आग लगने का कारण ओवर हीटिंग या शॉर्ट सर्किट बताया जा रहा है।

 

 

उल्‍लेखनीय है कि इतनी सुरक्षित जगह में आग लगने का कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी कई बार सरकारी इमारतें अग्निकांड का शिकार होती रही हैं। इनमें स्वास्थ्य भवन, शक्ति भवन, बापू भवन, जवाहर भवन जैसे कई बिल्डिंगें शामिल हैं। इसके बाद भी आग से निपटने को कोई मजबूत सुरक्षा नहीं तय की गई। 

 

 

“कंट्रोल रूम में मुख्‍यमंत्री कार्यालय के पांचवें तल में आग लगने की कोई सूचना नहीं दी गई। संभवत: आग सामान्‍य रही होगी जिसे वहीं के दमकल कर्मियों ने काबू कर लिया होगा।”

एबी पांडे

सीएफओ

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll