Home Lucknow News Dr. Tariique Azam Talked About The Benefits Of Physiotherapy

पूर्व CM अखिलेश यादव के सुरक्षा कर्मियों ने जाम में फंसने पर संभाली लखनऊ की ट्रैफिक व्यवस्था

प. बंगाल: पुलिस ने बरामद किए अमोनियम नाइट्रेट के 51 पैकेट

यूपी: वाराणसी पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

तमिलनाडु: फ्लाईओवर से गिरी सरकारी गाड़ी, छह कर्मचारियों की मौत

यूपी: नोएडा सेक्टर 63 में आईडिया कंपनी के गोदाम में आग, मौके पर दमकल की छह गाड़ियां

Trending :   #Hot_Photoshot   #Sports   #Politics   #Hollywood   #Bollywood

डॉ. आज़म ने बताए फिजियोथेरेपी के फायदे

Lucknow | 14-Sep-2017 01:13:59 PM
     
  
  rising news official whatsapp number

Dr. Tariique Azam Talked About the Benefits of Physiotherapy

दि राइजिंग न्यूज़

लखनऊ।

क्या आप भी डेली लाइफ में इतना बिजी हैं कि अपने शरीर का ख़याल नहीं रख पा रहे? क्या आपको भी जोड़ों के दर्द का निवारण चाहिए? तो हम आपको बताएंगे जाने माने फ़िज़ियोथेरेपिस्ट डॉ. तारीक आज़म के बताए हुए फिजियोथेरेपी के लाभ के बारे में। आपको बता दें कि डॉ. आज़म VLCC के सीनियर फ़िज़ियोथेरेपिस्ट और हेड ऑफ़ फिजियोथेरेपी डिपार्टमेंट हैं।

फिजियोथेरेपी के स्कोप के बारे में बताते हुए उन्होंने बताया कि आज कल के मॉडर्न ज़माने में लोगों के पास अपने लिये ही समय नहीं होता। हमारी रोज़ की जॉब में ही हमारी बॉडी को कितनी दिक्कतें झेलनी पड़ती हैं ये हमे समझ नहीं आता। ज़्यादा देर तक बैठने वाला काम है तो पीठ या कमर में दर्द होने लगता है, भाग दौड़ वाला काम है तो पैरों में दिक्कत हो जाती है। पर हम आदत से मजबूर हैं, जब तक वो दर्द झेल सकते हैं तब तक हम उसको नज़रंदाज़ करते हैं और जब वो ज़्यादा बढ़ जाए तब डॉक्टर के पास जाते हैं। ऐसा करने से बेहतर है कि फिजियोथेरेपी को अपनी जीवनशैली में जगह दी जाए। फिजियोथेरेपी सिर्फ एक्सरसाइज तक सीमित नहीं है बल्कि ये हमारी रोज़ मर्राह की ज़िन्दगी को आसान बनाने का एक तरीका है। फिजियोथेरेपी से हम सिर्फ रोग का निवारण ही नहीं करते बल्कि इससे ये भी सुनिश्चित कर सकते हैं कि आगे हमारी बॉडी को कोई परेशानी ना उठानी पड़े।

ज़रूरी नहीं कि फिजियोथेरेपी सिर्फ बिमारी होने के बाद इलाज के तौर पर की जाए। अगर एक व्यक्ति मोटापे से ग्रसित है और वर्तमान में सेहतमंद है तो इसका मतलब ये नहीं कि आगे उसको मोटापे से होने वाली बीमारियां नहीं हो सकतीं। उसके लिये उसे पहले से ही ये थेरेपी शुरू कर देनी चाहिए।

फिजियोथेरेपी और योग में अंतर बताते हुए डॉक्टर आज़म ने बताया कि योग मूल रूप से एक लाइफस्टाइल है, योग के बहुत लाभ हैं इसे नाकारा नहीं जा सकता पर योग सिर्फ व्यायाम तक सीमित है, शरीर के अलग अलग भागों का व्यायाम और श्वास के लिये भी अच्छा है पर जब बात फिजियोथेरेपी की आती है तो उसमे हम पहले मूल्यांकन करते हैं उस हिसाब से व्यायाम के तरीके बताते हैं। इसके अलावा फिजियो में आधुनिकता का भी इस्तेमाल किया गया है। इसमें हम व्यायाम के साथ साथ टेक्नोलॉजी से भी मदद कर सकते हैं। अगर किसी को पीठ का दर्द है जो कि काफी गंभीर है तो हम तुरंत ही उसको तकनीकी सुविधाओं के द्वारा कम कर सकते हैं और फिर व्यायाम कर उसका निवारण कर सकते हैं।

इन्हीं आधुनिक तकनीकों में से एक “कूल स्कल्पटिंग” को VLCC ने लांच किया है जिससे आसानी से 30% बॉडी फैट कम किया जा सकेगा।

 

 



जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

संबंधित खबरें

HTML Comment Box is loading comments...

 


Content is loading...



What-Should-our-Attitude-be-Towards-China


Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll



Photo Gallery
जय माता दी........नवरात्र के लिए मॉ दुर्गा की प्रतिमा को भव्‍य रूप देता कलाकार। फोटो - कुलदीप सिंह

Flicker News


Most read news

 



Most read news


Most read news


खबर आपके शहर की