Vicky Kaushal on Pulwama Terrorist Attack befitting answer must be given to Terrorism

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

गुरुवार को समाज सुधारक और राजनीतिज्ञ बाबा साहब डॉ. भीमराव आंबेडकर की 63वीं पुण्यतिथि है। 6 दिसंबर 1956 को उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया था। उन्हें वर्ष 1990 में मरणोपरांत भारत रत्न दिया गया। यही कारण है कि डॉ. भीमराव आंबेडकर का परिनिर्वाण दिवस हर साल उनकी पुण्यतिथि 6 दिसंबर को श्रद्धांजलि और सम्मान देने के लिए मनाया जाता है।  

 

 

आज गोमती नगर स्थित डॉ. भीमराव आंबेडकर सामाजिक परिवर्तन स्थल पर बाबा साहब का 63वां परिनिर्वाण दिवस सम्‍मान के साथ मनाया गया। इस दौरान बसपा के पूर्व मंत्री नकुल दुबे व प्रदेश अध्यक्ष समेत हजारों कार्यकर्ता मौजूद रहे।

 

 

 

बाबा साहब स्वतंत्र भारत के प्रथम कानून मंत्री थे और भारतीय संविधान के रचनाकार माने जाते हैं। उन्होंने दलित बौद्ध आंदोलन को प्रेरित किया और दलितों के खिलाफ सामाजिक भेदभाव के विरुद्ध अभियान चलाया। श्रमिकों और महिलाओं के अधिकारों का समर्थन किया।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement