Actress Jhanvi kapoor  Shares The Image of Dhadak Sets on Social Media

दि राइजिंग न्यूज

लखनऊ। 

 

कैसरबाग बस अड्डे आ रही अनुबंधित बस चालक की पिटाई के विरोध में कर्मचारियों ने चक्काजाम कर दिया। करीब डेढ़ घंटे तक कर्मचारियों ने संचालन बंद कर दिया और पुलिस के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की। बाद में रोडवेज व पुलिस के अधिकारियों के हस्तक्षेप और दोषी पुलिस कर्मी पर कार्रवाई के आश्वासन के बाद बसों का संचालन शुरू हुआ।

घटना दोपहर करीब एक बजे की है। बस अड्डे में प्रवेश कर रही एक अनुबंधित बस के कारण बस स्टैंड पर बनी चौकी के आसपास जाम लग रहा था। इस दौरान एक सिपाही ने बस चालक को आगे चौराहे से बस को घुमाने को कहा। इसी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद होने लगा। विवाद बढ़ने पर सिपाही ने चालक को मार दिया। इसकी खबर लगते ही बस अड्डे के तमाम कर्मचारी एकत्र हो गए। बसों का संचालन बंद कर दिया और पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। चालकों का आरोप था कि पुलिस वसूली के लिए बस अड्डे के आसपास पटरी पर दुकानें लगवा रही है। जिसके कारण हमेशा जाम लगा रहता है।

पुलिस के चौकी के सामने ही अवैध स्टैंड लगता है लेकिन पुलिस को दिखाई नहीं देता जबकि रोडवेज के कर्मचारियों के साथ अक्सर अभद्रता की जाती है। इसके विरोध में कर्मचारी लामबंद हो गए और नारेबाजी करने लगे। बाद में मारपीट में शामिल सिपाही पर कार्रवाई का आश्वासन मिलने के बाद कर्मचारियों का गुस्सा शांत हुआ और बसों का संचालन शुरू हो सका।

 

चिलचिलाती धूप में परेशान रहे मुसाफिर

उधर सिपाही और बस चालक के बीच हुए विवाद के चलते बस अड्डे पर पहुंचे मुसाफिर को चिलचिलाती धूप में परेशानी झेलनी पड़ी। लोग बसों में बैठे थे लेकिन चालक बस ले जाने को तैयार नहीं थे। इस काऱण बस अड्डे पर बड़ी संख्या में यात्री बसों के इतंजार में फिक्रमंद रहें। करीब डेढ़ घंटे बाद बसों का संचालन शुरु हुआ जिसके लोगों ने राहत की सांस ली। कैसरबाग बस अड्डे के अधिकारियों ने बताया कि विवाद के संबंध में कार्रवाई का आश्वासन दिया गया है और उसके बाद बसों का संचालन सामान्य हो गया।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement