Baaghi 2 Assistant Director Name Came in Physical Assault

दि राइजिंग न्‍यूज

आशीष सिंह

लखनऊ।

 

राजधानी के मसाज पार्लर में ग्राहकों द्वारा खास लड़की की मांग की जा रही है। ना मिलने पर मार-पीट से लेकर कई तरह के आपराधिक कृत्‍य भी हो रहे हैं। मसास पार्लर में खास लड़की की मांग से दाल में जरूर कुछ काला होने की बात समझ में आती है। हालांकि यह बात और है कि जिम्‍मेदार विभाग आंख मूंदे हैं। इससे ना केवल इन क्रॉस जेंडर मसाज केंद्रों से शहर की कानून व्‍यवस्‍था बिगड़ रही है बल्कि अपराध का एक नया पिलर भी तैयार हो रहा है। पीजीआई का ताजा मामला आने के बाद सिटी मजिस्‍ट्रेट ने इनके खिलाफ शिकंजा कसने का दम तो भरा है लेकिन फिलहाल इन मसाज सेंटरों पर कोई लगाम लगती नहीं दिख रही है।

 

मसाज पार्लर किस अधिनियम के तहत चल रहे हैं इसकी जानकारी किसी भी जिम्‍मेदार अधिकारी के पास नहीं है। सभी विभाग एक दूसरे पर पल्‍ला झाड़ रहे हैं। मुख्‍यमार्गों से लेकर गली तक खुलने वाले इन पार्लर के लिए कोई नियम कानून ही नहीं है। पार्लरों में प्रयोग किए जाने वाले केमिकल और रसायन की ही जांच होती है और ना ही इन पार्लर की आड़ में कौन-कौन सही-गलत काम हो रहे हैं इसकी जांच होती है। सूत्रों की मानें तो कई जिलों से लेकर गैर प्रांतों तक की लड़कियां यहां पर काम कर रही हैं। अब यही लड़कियां ही विवाद का कारण भी बन रही है।

मसाज पार्लर के नाम पर कभी सेक्‍स रैकेट का संचालन तो कभी मसाज के लिए खास लड़की की डिमांड जैसे कई कारनामें आए दिन देखने को मिलते रहते हैं। बीते बुधवार को देवी खेड़ा स्थित शिवसेना नेता द्वारा चलाए जा रहे मसाज पार्लर पर पीजीआई थाना क्षेत्र के साउथ सिटी के रहने वाले कुछ भाजपा नेता के भतीजे और उसका दोस्‍त मसाज कराने पहुंचे थे। इन ग्रहकों ने यहां पर खास लड़की से मसाज कराने की मांग की और इसके लिए पैसे भी चुकाए लेकिन वो खास लड़की अवकाश में थी। लिहाजा पार्लर वालों ने दूसरी लड़की से मसाज कराने को कहा तो दोनों भड़क गए और हंगामा करने लगे। इसके बाद वह घर लौट गए। इसकी जानकारी जब संचालक और शिवसेना नेता गौरव उपाध्‍याय को हुई तो वह अपने साथियों के साथ उन दोनों के घर पहुंचा और उन्‍हें जबरन कार में बैठाकर ले गया। इसके बाद कार में ही दोनों की जमकर धुनाई की और पार्लर ले जाकर लड़कियों से माफी मंगवाई इसके बाद दोनों को रुचिखंड, रजनीखंड के आसपास सड़क किनारे छोड़ कर चलता बना। पीडि़त पक्ष की ओर से हरेंद्र सिंह ने गौरव और उसके साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस आरोपियों की पड़ताल कर रही है। उल्लेखनीय है कि बीते वर्ष तत्कालीन एसएसपी मंजिल सैनी ने हुसैनगंज स्थित एक मसाज पार्लर पर छापेमारी करते हुए कार्यवाही की थी जो बाद में इसी शिवसेना नेता गौरव भाटिया का निकला था।

शहर में चल रहे मसाज पार्लरों की शिकायतें खूब मिल रही है। संबंधित विभागों से इनकी जांच होगी और जो भी नियम विरुद्ध होगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इसमें दुकान के लाइसेंस रद करने से लेकर सभी संचालकों के खिलाफ मुकदमा तक दर्ज कराया जाएगा।

विवेक श्रीवास्‍तव

सिटी मजिस्‍ट्रेट

 

“हम कॉ‍मर्शियल लाइसेंस के लिए दुकान का रजिस्‍ट्रेशन करते हैं और टैक्‍स वसूलते हैं लेकिन किस चीज की दुकान खुल रही है इसकी मॉनिटरिंग करने का अधिकार हमे नहीं है। इसके लिए संबंधित विभाग बनाए गए हैं। मसाज पार्लर, ब्‍यूटी पार्लर में रसायन और केमिकल का प्रयोग होता है।  इसलिए यह ड्रग विभाग से संबंधित मामला बनता है।”

उदय राज सिंह

नगर आयुक्‍त, नगर निगम

“आज तक किसी भी समाज पार्लर की जांच हमारे द्वारा तो नहीं हुई और ना ही इसकी मुझे जानकारी है। आज छुट्टी है इसलिए कुछ बता भी नहीं सकता। पता कराता हूं कि इनके खिलाफ क्‍या-क्‍या हो सकता है।”

पीके मोदी

सहायक आयुक्‍त ड्रग, एफएसडीए

 

“यदि राजधानी के मसाज पार्लरों किसी भी प्रकार का गैर कानूनी काम होता है तो इसकी सूचना मिलते ही पुलिस कार्रवाई करती है। बीते दिनों पत्रकारपुरम में भी कार्रवाई हुई थी। हालांकि पुलिस सीधे के पास बिना शिकायत के इन पार्लरों की जांच करने का कोई अधिकार नहीं है। इसके लिए नगर निगम जैसे जिम्‍मेदार विभाग हैं और सामान्‍यतया वही व्‍यावसायिक प्रतिष्‍ठानों के खिलाफ कार्रवाई भी करते हैं। इसलिए पुलिस इन मसाज पार्लरों के खिलाफ कोई एक्‍शन नहीं ले सकती है।”

दीपक कुमार

एसएसपी

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement