Akshay Kumar Gold And John Abraham Satyameva Jayate Box Office Collection Day 2

दि राइजिंग न्‍यूज

सभी फोटो- कुलदीप सिंह

लखनऊ।

 

कुछ दिन पहले जिस स्विमिंग पूल में पानी हुआ करता था, आज उसमें मिट्टी है। जिस पत्‍थर लगे साइकिल ट्रैक पर सुबह साइकिल चलाई जाती थी, उस पर भी सिर्फ मिट्टी ही दिख रही है। यह नज़ारा है पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव के सरकारी आवास का।    

 

 

दरअसल, कुछ दिनों पहले पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपना सरकारी आवास खाली किया था। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सपा अध्‍यक्ष ने बंगला तो खाली कर दिया, लेकिन जाते-जाते उसे उजाड़ गए। शनिवार को संपत्ति विभाग ने आवास अपने जिम्‍मे ले लिया, मगर मीडियाकर्मियों के सवालों के जवाब तक नहीं दे सके।

 

 

 

 

संपत्ति विभाग के पास भी नहीं है जवाब

उल्‍लेखनीय है कि जनता के करीब 42 करोड़ रुपए की कीमत से सजाए-सवांरे गए आवास को पूरी तरह से खाली कर दिया गया। यहां तक कि बंगले के अंदर की कीमती चीजें और टोटियां तक निकाल ली गईं। इस बात का जवाब तो संपत्ति विभाग के पास भी नहीं है कि पूर्व मुख्‍यमंत्री का यह बंगला निजी है या जनता के पैसे से खरीदा गया है।

 

 

 

 

ऐसे उजाड़ा गया बंगला

सपा अध्‍यक्ष के बंगला खाली करते समय अंदर की सुविधाएं ध्‍वस्‍त कर दी गईं। बंगले में जो स्विमिंग पुल बना था उसे पटवा दिया गया। खेलने के लिए बने बैडमिंटन कोर्ट को पूरी तरह से बर्बाद कर दिया गया।

आवास के बाथरूम में लगी हुई महंगी-महंगी टोटियां भी खोल ली गईं और वॉश बेसिन भी निकाल लिया गया। आवास में विदेशों से पेड़-पौधे लाए गए थे वह भी साथ ले गए। इतना ही नहीं आवास में जो साइकिल ट्रैक बनाया हुआ था, उसके पत्थर तक उखाड़ लिए गए हैं। इससे संपत्ति विभाग को भारी नुकसान हुआ है।

 

 

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Public Poll