Uri Team Donate on One Crore Rupees to Pulwama Terrorist Attack Martyr Families

दि राइजिंग न्यूज़

लखनऊ।

 

गणतंत्र दिवस यानी 26 जनवरी में अब बस कुछ ही दिन बाकी है। ऐसे में इसकी तैयारियां जोरों पर हैं। इसी क्रम में सिटी मोंटेसरी स्कूल के बच्चे भी जुटे हुए हैं। इसी सिलसिले में आज सीएमएस कानपुर रोड स्थित ब्रांच में एक प्रेस कांफ्रेंस हुई। इस कांफ्रेंस का मकसद था बच्चों की तैयारियों को दिखाना। दरअसल, सीएमएस के बच्चे इस वर्ष 26 जनवरी की परेड में हिस्सा लेने जा रहे हैं। “विश्व हमें देता है सब कुछ, हम भी तो कुछ देना सीखें” थीम पर स्कूल के बच्चे एक अनूठी झांकी प्रस्तुत करने जा रहे हैं।

स्कूल के संस्थापक ने डाली झांकी के बिंदुओं पर रौशनी

कांफ्रेंस में स्कूल के संस्थापक डॉ. जगदीश गांधी ने झांकी के विभिन्न पहलुओं पर रौशनी डाली। उन्होंने कहा कि यह झांकी भारतीय संविधान के अनुच्छेद 51 की भावना को प्रसारित करेगी। ये झांकी विश्व समुदाय से एकता व शांति की राह पर चलने की अपील करेगी। डॉ. गांधी ने विश्वास व्यक्त किया कि ये झांकी गणतंत्र दिवस परेड में जनमानस के विशेष आकर्षण का केंद्र होगी।

चार भागों में डिवाइड है झांकी

उन्होंने आगे बताया कि सीएमएस की ये झांकी चार भागों में है और सभी भाग एक अनूठे ढंग से मानवता के कल्याण का सन्देश दे रहे हैं। गौरतलब है की आज की कांफेरंस में इस झांकी की प्रस्तुति मीडिया को देखने को मिली। डॉ गांधी ने बताया कि झांकी का पहला भाग भारतीय संविधान के अनुच्छेद 51 की भावना को दर्शाएगी। दूसरे भाग में ये एकता प्रदर्शित करते हुए एक ही छत के नीचे विभिन्न धार्मिक स्थल प्रदर्शित कराएगी। तीसरे भाग में ये झांकी विश्व संसद का दृश्य दिखाएगी और चौथे भाग में मानवता के कल्याण हेतु अंतराष्ट्रीय न्यायालय को प्रभावशाली बनाते हुए दिखाएगी।

बच्चों को सुशिक्षित बनाना ईश्वरीय कार्य

इस अवसर पर दि राइजिंग न्यूज़ से ख़ास बातचीत में डॉ. जगदीश गांधी ने अपने कुछ अनुभव भी साझा किये। अपने पुराने दिनों को याद करते हुए उन्होंने बताया कि एक समय था जब वे घंटा पीटकर बच्चों को स्कूल में पढ़ने के लिए बुलाते थे। बच्चों के ना आने पर उन्हें निराशा भी बहुत होती थी। लेकिन ईश्वरीय अनुभूति होने पर उनसे पांच बच्चे पढ़ने के लिए आये जो आज 55,000 की संख्या में तब्दील हो चुके हैं।

Divine Education में भरोसा रखता है सीएमएस

स्कूल में घिनौनी हरकतों पर डॉ. गांधी का कहना है, “ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि बच्चों सिर्फ शिक्षा दी जा रही है। उन्हें संस्कार नहीं दिए जा रहे हैं। सीएमएस सभी बच्चों को Divine Education देने में भरोसा रखता है। इससे उनका भविष्य उज्जवल होता है।    

   

                            

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement