Arjun Kapoor and Malaika Arora Affair Updates

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

चुनाव आयोग द्वारा चुनाव प्रचार पर 72 घंटे की रोक के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज सुबह हनुमान सेतु स्थित बजरंग बली के मंदिर में पूजा अर्चना की। मुख्यमंत्री आज करीब साढ़े 9 बजे शहर के बीच में स्थित हनुमान सेतु पर बजरंग बली के मंदिर पहुंचे और उन्होंने पूरे विधि विधान के साथ पूजा अर्चना की और हनुमान चालीसा का पाठ किया। योगी मंदिर में करीब 20 मिनट तक रहे।

इस दौरान उन्होंने वहां मौजूद मीडिया से कोई बात नहीं की और मुस्कुराते हुए वापस लौट गए। आज लखनऊ सीट से भाजपा के प्रत्याशी और गृह मंत्री राजनाथ सिंह को नामांकन करना है, लेकिन मुख्यमंत्री योगी इस नामांकन में शामिल नहीं होंगे। सीएम योगी के बाद गृहमंत्री राजनाथ सिंह भी मंदिर पहुंचे, नामांकन करने से पहले राजनाथ सिंह ने मंदिर में पूजा की। सीएम योगी के प्रचार करने पर चुनाव आयोग ने प्रतिबंध लगा रखा है। हालांकि, उनके प्रतिबंध में मंदिर में जाना शामिल नहीं है।

 

आपको बता दें कि चुनाव आयोग ने आखिरकार आदर्श चुनाव आचार संहिता उल्लंघन मामलों में बड़ी कार्रवाई की। सोमवार को आयोग ने योगी आदित्यनाथ पर तीन दिन चुनाव प्रचार करने पर रोक लगा दी है। आयोग ने गहरी नाराजगी भी जाहिर की है। यह रोक आज सुबह छह बजे से शुरू हई। चुनाव आयोग ने कहा मेरठ की रैली में आदित्यनाथ द्वारा की गई अली और बजरंग बली की टिप्पणी जाहिर तौर पर उचित नहीं है। गौर हो कि, योगी ने मेरठ की रैली में कहा था कि यदि सपा बसपा गठबंधन को अली पर भरोसा है तो उन्हें बजरंग बली पर भरोसा है। आयोग ने योगी के बयान को सीधे तौर पर एमसीसी का उल्लंघन माना।

आयोग ने कहा एक राज्य का मुख्यमंत्री होने के नाते योगी पर धर्मनिरपेक्ष मूल्यों के अतिरिक्त सभी के मूल नैतिक अधिकारों को बनाए रखने की जिम्मेदारी है। रैली में उनकी टिप्पणियों ने सार्वजनिक मर्यादा का उल्लंघन किया है। जो खुले तौर वोटों के ध्रुवीकरण की कोशिश कही जा सकती है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement