Ali Asgar Faced Molestation in The Getup of Dadi

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की छवि बदलने का श्रेय यूपी पुलिस की कड़ी मेहनत को दिया है। उन्‍होंने कहा, पहले कानून-व्यवस्था एक बड़ा मुद्दा था। कानून-व्यवस्था में सुधार होने से ही निवेशक यूपी में निवेश के लिए आ रहे हैं। निवेश आने से प्रदेश में बड़ी संख्या में रोजगार पैदा होंगे।

बुधवार को मुख्‍यमंत्री इंदिरा भवन में 35 हजार से ज्‍यादा आरक्षी पुलिस प्रशिक्षुओं के प्रशिक्षण सत्र के शुभारंभ के अवसर उन्हें संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर उन्होंने कहा कि दुनिया का सबसे बड़ा प्रदेश यूपी है है और इसमें सबसे बड़ा पुलिस बल है। सीएम ने कहा, 35 हजार से अधिक पुलिस प्रशिक्षु बलों का कार्यक्रम महत्वपूर्ण है।

पुलिस को बदलनी होगी कार्यशैली

मुख्‍यमंत्री योगी ने कहा कि पुलिस को जड़ता का शिकार नहीं होना चाहिए। समय के साथ बदलाव करते रहना चाहिए। आज अपराध की प्रवृत्ति और तकनीक बदली है ऐसे में पुसिल को भी अपनी कार्यशैली में बदलाव करना होगा। प्रशिक्षु आरक्षियों को मूलमंत्र देते हुए उन्‍होंने कहा कि पुलिसकर्मियों को शॉर्टकट का रास्ता नहीं अपनाना चाहिए।

सीएम ने कहा कि हमने किसी भी आतंकी घटना से निपटने के लिए एटीएस को सक्षम बनाया है। पीएसी की 54 कंपनियों को दोबारा शुरू करने और उन्हें सक्षम बनाने के लिए प्रयास किया जा रहा है। आठ जोनल में फॉरेंसिक लैब की स्थापना की जा रही है।

बेहतर राज्यों में से एक है यूपी की कानून व्‍यवस्‍था

योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि प्रदेश में आज जो माहौल है वो टीम वर्क की देन है। यूपी पुलिस की कड़ी मेहनत से प्रदेश की छवि बदली है। यूपी की कानून व्यवस्था बेहतर राज्यों में से एक है।

उन्‍होंने कहा, 1.60 लाख पुलिस में रिक्तियां हैं। इनकी भर्ती बहुत पहले हो जानी चाहिए थी, लेकिन न्यायालय में मामले लंबित था।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement