Pregnant Actress Neha Dhupia Shares Her Opinion on Pregnancy

दि राइजिंग न्‍यूज

बाराबंकी।

 

सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ द्वारा हाईस्कूल के टॉपर को दिया गया चेक बाउंस हो गया। जिसके बाद हड़कंप मच गया। हालांकि, बाद में डीआइओएस ने ऑफिस बुलाकर मेधावी को दूसरा चेक सौंप दिया। मामला बाराबंकी का है। मेधावी छात्र का चेक बाउंस होने के मामले को अब तक दबाने में जुटे शिक्षा विभाग ने शनिवार को इस पर सफाई देने के लिए पत्रकारों को अपने कार्यालय बुलाया।

डीआइओएस ने सौंपा नया चेक

मीडिया के सामने ही मेधावी छात्र आलोक को एक लाख रुपये का नया चेक सौंप दिया। इस मौके पर डीआइओएस ने दावा किया कि अन्य मेधावी छात्रों के चेक का भुगतान हो गया है। यूपी बोर्ड की परीक्षा में हाईस्कूल व इंटरमीडिएट में प्रदेश व जिला स्तर के टॉपर छात्रों को सीएम योगी ने लखनऊ में चेक दिए थे।

 

 

इसमें प्रदेश स्तर पर स्थान बनाने वाले जिले के 14 मेधावियों को एक-एक लाख रुपये और जिला स्तर के दस मेधावियों को 21-21 हजार रुपये का चेक दिया गया था।

इनमें हाईस्कूल में प्रदेश में सातवीं रैंक हासिल करने वाले यंग स्ट्रीम के छात्र आलोक मिश्रा ने अपना चेक देना बैंक के खाते में लगाया तो बैंक ने भुगतान करने से इन्कार कर दिया। बैंक का कहना था कि चेक पर किए गए हस्ताक्षर मेल नहीं खा रहे हैं। शुक्रवार को इस संबंध में छात्र ने डीआइओएस राजकुमार यादव से मुलाकात की थी।

छात्र को दिया गया दूसरा चेक

मामला सुर्खियों में आया तो डीआइओएस ने कह दिया कि छात्र को दूसरा चेक उपलब्ध करा दिया गया है। शनिवार को पत्रकारों के सामने छात्र को चेक सौंपा गया। उधर, चेक बाउंस होने की खबर के बाद अन्य मेधावी भी अपने चेक के बारे में जानकारी करने बैंक शाखा पहुंचे। हालांकि, अवकाश होने उन्हें इस बारे में जानकारी नहीं हो सकी।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement