Home Lucknow News Case Of Mistakes In District Election Office Voter List

पुलवामा में आतंकियों को पकड़ने के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया है: CRPF

राहुल गांधी ने ट्वीट कर PM से पूछे 3 सवाल, साधा निशाना

जब ट्रंप से पूछा गया कि वो विकास कैसे करेंगे तो उन्होंने कहा मोदी की तरह: योगी

नैतिकता के आधार पर केजरीवाल और उनके MLA इस्तीफा दें: रमेश बिधूड़ी

दबाव में हैं मुख्य चुनाव आयुक्त: अलका लांबा

दिन भर घनघनाते कंट्रोल रूम के फोन   

Lucknow | 08-Nov-2017 12:00:00 | Posted by - Admin
  • वोटरों की आ रहीं सबसे ज्‍यादा शिकायतें  
  • किसी का नाम गायब तो किसी का पता ही बदल गया
   
Case of Mistakes in District Election Office Voter List

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

हेलो सर मेरा नाम वोटर लिस्‍ट से गायब है..., सर वोटर आइडी में मेरा पता बदल गया है...जिला निर्वाचन कार्यालय के कंट्रोल रूम में दिनभर ऐसी ही शिकायतें आती रहती हैं। हाल यह हो गया है कि जहां कंट्रोल रूम का फोन दिनभर व्‍यस्‍त रहता है तो वहीं कंट्रोल रूम के अधिकारियों ने वोटर लिस्‍ट संबंधी शिकायत को रजिस्‍टर में दर्ज करना तक बंद कर दिया है।

अधिकारियों ने बताया कि वोटर लिस्‍ट में नाम से लेकर इस तहर की किसी भी शिकायत का कोई समाधान नहीं है। इसलिए इसका दस्‍तावेज ही नहीं तैयार किया जा रहा। 

 

 

बसंतकुंज विहार के रहने वाले अनीश श्रीवास्‍तव ने कंट्रोल रूम में फोन किया और वोटर लिस्‍ट में नाम ना होने की शिकायत की। इसपर अधिकारियों ने उप जिला निर्वाचन अधिकारी शत्रुघ्‍न सिंह से मिलकर समाधान करने का उपाय बताया। पीडि़त जब उप‍ जिला निर्वाचन अधिकारी से मिला तो उन्‍होंने उसे बताया कि उसकी समस्‍या का कोई हल ही नहीं है, क्‍योंकि निर्वाचन आयोग 28 अक्‍टूबर को ही साइट बंद कर चुका था।

 

 

इसके अलावा आशियाना के शारदा नगर द्वितीय आम्रपाली विहार के सुरेंद्र कुमार ने बताया कि नई निर्वाचन सूची में उनके क्षेत्र से पचास से अधिक लोगों के नाम ही गायब हो गए। इसी तरह हैदरगंज की बिटान, हजरतगंज शिवा गोस्‍वामी, उदयगंज के ओमप्रकाश, फैजुल्‍लागंज के निजामुद्दीन सहित कई पीडि़तों के फोन आए और उन्‍होंने ने भी अपना नाम ना होने की शिकायत दर्ज कराई।

ये वो शिकायतें हैं जो जिला कंट्रोल रूम में दर्ज हैं। इसके बाद कंट्रोल रूम के अधिकारियों को पता चला कि इस शिकायत का कोई हल ही नहीं है तो उन्‍होंने रजिस्‍टर में शिकायत को दर्ज करना भी बंद कर दिया।

 

 

“वोटर लिस्‍ट से जुड़ी किसी भी समस्‍या का सामाधान नहीं होगा, क्‍योंकि निर्वाचन आयोग ने साइट को बंद कर दिया है। जो लोग भी नाम ना होने की शिकायत कर रहे हैं वह झोपडि़यों में रहने वाले लोग हैं या फिर दो-दो जगह से वोटर हैं। झोपडि़यों की पहचान ना होने के कारण उनका नाम हटा दिया गया है। निकाय चुनाव को लेकर 2069 बीएलओ ने लगातार काम किया और इसीलिए रिकॉर्ड 2.27 लाख वोटर भी जुड़े हैं। इतना ही नहीं नि‍र्वाचन आयोग ने अंतिम सूची प्रकाशन से पहले सभी को तीन मौके भी दिए थे।”

शत्रुघ्‍न सिंह

उप निर्वाचन अधिकारी

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news