Second Teaser of Movie Sanju  Released

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

मीटर रीडिंग करने से लेकर बकाया वसूली तक काम भले ही बिजली विभाग ने ठेके पर दे दिया हो, लेकिन बिजली चोरी रुकी न बकायेदारी घटी। इतना जरूर है कि अभियंताओं का कमीशन जरूर साल दर साल बढ़ता गया। इस भाड़े की व्यवस्था में इतना जरूर हुआ कि उपभोक्ता केवल दोहन का शिकार बन गए। मीटर खराब हो या संविदा कर्मी बदमाश मगर दोषी हर बार उपभोक्ता को ही ठहराया जा रहा है।

 

 

केवल इतना ही नहीं, कई सालों से लगातार मॉनिटरिंग और ठेके के बावजूद लाइन लॉस में महज दो फीसद की गिरावट का दावा मध्यांचल विद्युत वितरण निगम के प्रबंध निदेशक एपी सिंह करते हैं, लेकिन सवाल यह है कि लाइन लॉस के लिए कितने अभियंता–कर्मचारी व ठेकेदार पर कार्रवाई या वसूली हुई। जिन लोगों को बकाया वसूलने से लेकर चोरी रोकने की जिम्मेदारी दी जा रही है, आखिर उन पर कार्रवाई क्यों नहीं की जा रही। 

 

मध्‍यांचल निगम में बीते दो वर्षों में दो प्रतिशत लाइन लॉस में कमी आई है, अभी और लाइन लॉस को कम करने के कोशिशें की जा रही हैं। मध्‍यांचल के एमडी एसपी सिंह ने बताया कि जब से मैंने कुर्सी संभाली है, लाइन लॉस करने के लिए लगातार को‍शिशें की जा रही हैं, अभियान चलाया जा रहा है, इसके साथ ही जिलों और शहरों में एक अलग टीम बनाकर अभियान को चलाया जाएगा। उन्‍होंने बताया कि मेरे आने से पहले मध्‍यांचल निगम का लाइन लॉस 24 से 25 फीसदी था, जो कि वर्तमान में घटकर 22 से 23 तक रह गया है। इसको और कम करने की योजना तैयार की जा रही है। इसके साथ ही लाइन लॉस कम करने और बिजली चोरी को रोकने के लिए आर्मड और एबीसी लाइन बिछाई जा रही हैं। लखनऊ के ज्‍यादातर हिस्‍सों में भूमिगत लाइन को बिछा दिया गया है।

 

 

दफ्तर बंद, चोरी चालू

शाम ढलते ही राजधानी के सभी बाजारों में कटिया का बाजार रोशन हो जाता है। यह वक्त होता लेसा दफ्तर में अवकाश का और चोरी के आगाज का।

 

 

विजिलेंस से कराई जाएगी चेकिंग

एमडी एसपी सिंह ने बताया कि पुराने इलाकों और शहरों में विजि‍लेंस की मदद से अभियान को चलाया जाएगा। अबकी बार बडे बकायेदारों और बिजली चोरों को किसी भी स्‍तर से छोड़ा नहीं जाएगा।

 

 

रातों में भी चलेगा अभियान

मुख्‍य अभियंता आशुतोष कमार ने बताया कि अब रातों में भी लोगों की नीदों को हराम किया जाएगा। रात 10 बजे से पुलिस के नेतृत्‍व में अभियान को चलाया जाएगा। बीते दो दिन पूर्व ही निराला नगर और डंडहिया में अभियान को चलाया गया। उन्‍होंने बताया अभियान से पूर्व जिले के एसपी को सचना दे दी जाती है, जिसके बाद पुलिस मुहैया कराई जाती है।

 

 

इन इलाकों में होती है सबसे ज्‍यादा बिजली चोरी

चौक, अमीनाबाद, पान परीबा, ठाकुरगंज, मौलवीगंज, नक्‍कास, विक्‍टोरियां, बालागंज, बालाघाट, सदरौना, हुसैनगंज, ऐशबाग, राजेन्‍द्रनगर, नाका सहित कई और इलाकों में जबर्दस्‍त बिजली चोरी होती है। इन सभी इलाकों में 35 से 40 प्रतिशत का लाइन लॉस होता है।

 

 

लखनऊ में उपभोक्ता-

  • 8.5 लाख उपभोक्ता शहर में
  • 88 हजार उपभोक्ता ग्रामीण इलाकों में
  • 22 हजार बिल सुधारे गए
  • आठ हजार मीटर बाहर लगाए गए
  • 15 मामले पकड़े गए मीटर बायपास के

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll