Deepika Padukone Turns As A Relative Of Arjun and Sonam After Marrying Ranveer Singh

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

मंगलवार को बीजेपी के किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्‍यक्ष व सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त ने एक प्रेस वार्ता की। मीराबाई मार्ग स्थित स्‍टेट गेस्‍ट हाउस में वार्ता के दौरान उन्‍होंने कहा कि आजादी के बाद यह पहली सरकार है जिसने हिंदुस्तान के बजट का 52 फीसदी किसानों की योजनाओं में दिया है।

उन्‍होंने कहा, संसदीय राजनीति खेत खलिहान से होकर ही गुजरेगी। कृषि और ऋषि परंपरा सम्मेलन होंगे।

राहुल पर निशाना

सांसद वीरेंद्र सिंह ने कहा, किसानों के लिए वह लोग आंदोलन कर रहे हैं, जो किसानी-खेती किताबों में करते हैं। राहुल गांधी अगर ज्वार, गेहूं व धान का पौधा पहचान लें तो हम उनका सम्मान करेंगे।

देशभर में किए जाएंगे कृषि-ऋषि परंपरा सम्मेलन

उन्‍होंने कहा, प्रदेश सरकार ने फिजूलखर्ची रोककर किसानों का कर्जा माफ किया। गन्ना किसानों के लिए जो काम किया, उसके लिए किसानों ने प्रधानमंत्री का स्वागत किया। यूपी में पहले किसानों की समृद्धि के लिए जो काम किए जा रहे हैं। देशभर में कृषि-ऋषि परंपरा सम्मेलन किए जाएंगे।

योगी सरकार ने किसान समृद्धि आयोग बनाया है। यह यूपी का पहला आयोग है जो किसानों की समृद्धि के लिए बनाया गया है। इसके चेयरमैन सीएम योगी हैं।

मोदी सरकार ने भेड़पालक किसानों के लिए बनाई समृद्धि योजना

वीरेंद्र सिंह ने आगे कहा, जो लोग एमपी और यूपी में किसानों के लिए आंदोलन कर रहे थे, हमने उन लोगों को संवाद के लिए बुलाया। उसके बाद आंदोलन समाप्त हुआ। शासन, प्रशासन और समाज मिलकर सरकारी योजनाओं का लाभ आमजन तक पहुंचा सकते हैं। उन्‍होंने कहा, आज तक भेड़पालक किसानों के लिए किसी सरकार ने नहीं सोचा था, मगर मोदी सरकार ने उनकी समृद्धि की योजना बनाई।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement