Salman Khan father Salim Khan Support MeToo Campaign in Bollywood

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

राजाजीपुरम स्थित रानी लक्ष्मी बाई राजकीय संयुक्त चिकित्सालय में मंगलवार को हुआ छेड़छाड़ का मामला अब गंभीर हो गया है। मामले की गंभीरता को देखते हुए बीजेपी विधायक सुरेश कुमार श्रीवास्तव ने अस्पताल का निरीक्षण किया। उन्होंने अस्पताल के कर्मचारियों और डॉक्टर्स से घटना के बारे में पूछताछ की। उधर, अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक ने आठ सदस्यीय जांच कमेटी गठित की है।

अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. राजेंद्र चौधरी ने बताया कि पूरे प्रकरण की जांच के लिए आठ डॉक्टर्स की टीम गठित की गई है। जिसमे डॉ. एके आर्या, डॉ. डीके गुप्ता, डॉ. केए सिद्दीकी, डॉ. मंजुल बहार, एएन एस सिन्गधा दास, एचपी वर्मा, रमाकांत पांडेय और मैनेजर अनुपम यादव हैं। कमेटी से डॉक्टर और आरोप लगाने वाली युवती के बयान दर्ज कर मामले की हकीकत पता कर रिपोर्ट मांगी गई है।

उधर, क्षेत्रीय विधायक सुरेश कुमार श्रीवास्तव बुधवार सुबह अस्पताल पहुंचे। उन्होंने आयुष विभाग के डॉ. वीरेंद्र चौधरी व महिला कर्मचारी अफ्शा बानों से घटना की जानकारी ली।

सीसीटीवी कैमरे लगाने के निर्देश

विधायक ने अस्पताल प्रबंधन को परिसर में सीसीटीवी कैमरे लगाने के निर्देश दिए हैं। इसके बाद विधायक ने प्रमुख सचिव चिकित्सा से भी फोन पर वार्ता की। उधर, अस्पताल की जांच कमेटी ने घटना के संबंध में डॉक्टर के बयान दर्ज कर लिए पर अभी तक युवती के बयान नहीं दर्ज हो सके हैं।

वहीं, युवती ने जिलाधिकारी और एसएसपी से न्याय की गुहार करते हुए पुलिस पर एक पक्षीय कार्रवाई का आरोप लगाया है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement